न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Turkey ने सीरिया पर #AirStrike शुरू की, आम लोगों के हताहत होने की खबर, भारत ने संयम बरतने को कहा

तुर्की का कदम क्षेत्र में स्थिरता और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को कमजोर कर सकता है.  इस कदम से मानवीय संकट पैदा होने की संभावना है

527

NewDelhi : अमेरिका  की  सेना हटाने के फैसले के तुरंत बाद तुर्की ने अपने पड़ोसी देश सीरिया में  हमला (एयर स्ट्राइक)  करना शुरू कर दिया  है. हमले में आम लोगों के हताहत होने की भी खबर आ रही है.  हालांकि, तुर्की दावा कर रहा है कि  वह कुर्द बलों और इस्लामिक स्टेट के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है.

जान लें कि तुर्की कुर्द लड़ाकों को आतंकी मानता है. तुर्की के एकतरफा फैसले पर भारत ने गहरी चिंता जताते हुए तुर्की से अपील की कि वह सीरिया की क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करे.

भारत के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, हम पूर्वोत्तर सीरिया में तुर्की के एकतरफा सैन्य हमले पर गहरी चिंता जाहिर करते हैं.  तुर्की का कदम क्षेत्र में स्थिरता और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को कमजोर कर सकता है.  इस कदम से मानवीय संकट पैदा होने की संभावना है.

मंत्रालय ने कहा, हम तुर्की से अपील करते हैं कि वह सीरिया की क्षेत्रीय अखंडता व संप्रभुता का सम्मान करे और संयम बरते.  हम बातचीत और चर्चा के माध्यम से मुद्दे के शांतिपूर्ण समाधान की अपील करते हैं.

hotlips top

इसे भी पढ़ें :   #DonaldTrump को अमेरिका के लोकतंत्र के लिए खतरा बता कर #JoeBiden ने महाभियोग चलाने की मांग की

तुर्की के राष्ट्रपति ने संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर पर  पाकिस्तान का समर्थन किया था 

भारत ने तुर्की के इस ऐक्शन पर विरोध ऐसे समय में जताया है जब हाल ही में तुर्की के राष्ट्रपति ने संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर का जिक्र करते हुए पाकिस्तान का समर्थन किया था.  तुर्की ने कई बार कश्मीर में कथित तौर पर मानवाधिकार के उल्लंघन की बात की है.  तुर्की के राष्ट्रपति ने कश्मीर की तुलना फिलिस्तीन से भी कर डाली.  इतना ही नहीं, तुर्की पाकिस्तान के लिए युद्धपोत भी बना रहा है.

इसे भी पढ़ें : तेजस के बाद अब 150 ट्रेन और 50 स्टेशन को निजी हाथों में देने की तैयारी में रेल मंत्रालय

अमेरिका की  तुर्की की अर्थव्यवस्था को तबाह करने की चेतावनी 

कुछ दिन पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने सीरिया-तुर्की सीमा पर तैनात अपने सैनिकों को हटाने की घोषणा की.  उन्होंने कहा था कि तुर्की को अपनी समस्या का समाधान खुद करना होगा.  वहीं, जब तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने सीरिया पर हवाई हमले की घोषणा की तो अमेरिका ने इस कदम पर अंकारा को चेताते हुए कहा कि अगर वह अपनी हद पार करेगा तो वॉशिंगटन उसकी अर्थव्यवस्था को तबाह कर देगा.

हालांकि, तुर्की पर इसका असर होता नहीं दिख रहा और राष्ट्रपति एर्दोआन ने बुधवार को घोषणा की कि हमने सीरिया में एयर स्ट्राइक शुरू कर दी है.  उन्होंने यह जरूर दावा किया कि इस हमले में आम नागरिकों को निशाना नहीं बनाया जायेगा और हमला सिर्फ कुर्द बलों व आईएस पर हो रहा है.   कहा कि सीरिया की संप्रभुता का सम्मान किया जायेगा.  लेकिन स्थानीय रिपोर्ट के अनुसार इस हमले में आम नागरिकों में बेचैनी बढ़ गयी है और उन्हें अपनी सुरक्षा की चिंता सता रही है.

इसे भी पढ़ें :  #Ranbaxy के पूर्व प्रमोटर शिविंदर सिंह समेत चार लोग 740 करोड़ रुपए के फ्रॉड केस में गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like