Jharkhand

कोयला उत्पादन के लक्ष्य में सेंधमारी कर रहे हैं चोर

खंतो के खिलाफ कार्रवाई, ओपेनकास्ट में चोरी पर नहीं है किसी का ध्यान

बगैर संरक्षण के गिरिडीह ओपेनकास्ट खदान से कोयला चोरी करना संभव नहीं

Giridih : कोयला चोरों के खिलाफ सीसीएल प्रबंधन की कार्रवाई पिछले चार दिनों से जारी है. पुलिस के सहयोग से चार दिनों में 50 अवैध खंतो को डोजरिंग करने का दावा सीसीएल के सुरक्षा विभाग द्वारा किया गया है. इनमें सोमवार को 17 खंतो की डोजरिंग शामिल है. सुरक्षा विभाग के अनुसार चार दिनों के भीतर मुर्गियाटेंगरी में 11, तो बुढ़ियाखाद कब्रिस्तान से सटे इलाके में छह खंते शामिल है.

सुरक्षा पदाधिकारी ओमप्रकाश दास 50 खंतों की डोजरिंग का दावा तो किया लेकिन ओपेनकास्ट खदान में जहां खंतो की डोजरिंग होनी चाहिए, वहां ना तो सुरक्षा विभाग ही पहुंच रहा है और ना ही मुफ्फसिल थाना पुलिस ही उन इलाकों में डोजरिंग करा रही है. फिलहाल इसी ओपेनकास्ट से लगातार हो रही कोयला चोरी की कमाई ने चोरों का मनोबल तो बढ़ाया ही है. इसी कमाई ने पुलिस और सीसीएल के सुरक्षा विभाग के पांव में जंजीरे बांध दिया है. चोरी भले कोयला चोर कर रहे हो, लेकिन सुरक्षा की जिम्मेवारी निभाने वालों का संरक्षण इन चोरों को लगातार मिलता आ रहा है. या यूं कहें कि बगैर संरक्षण के चोरी भी संभव नहीं, तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी.

advt

 

ऐसे में समझा जा सकता है कि इस इलाके के कोयला चोरों के सिडिकेंट का सूचना तंत्र किस हद तक मजबूत है कि कार्रवाई होने से पहले सूचना पहुंच रही है. वैसे सिडिकेंट के सदस्यों में कोयला चोरों के साथ इलाके के कई सफेदफोश भी शामिल हैं. जिनका जुटान सारा दिन कार्रवाई करने वालों के साथ ही रहता है. और सारी सूचना कोयला चोरों तक पहुंचता है. वैसे मामला सिर्फ खंतो से कोयला चोरी तक सीमित नहीं है. ओपेनकास्ट खदान में सीसीएल प्रबंधन द्वारा हर रोज उत्पादन के डंप कोयले की चोरी तक कर रहे हैं. हर रोज खदान से अगर नौ सौ टन कोयले का उत्पाद होता है. तो चोर ढाई सौ से करीब तीन सौ टन कोयले की चोरी कर लेते है. यही कारण है कि ओपेनकास्ट में सलाना कोयले का उत्पादन लक्ष्य मार्च के अंतिम तक एक लाख 40 हजार टन रखा गया है. तो वित्तीय साल 2020-21 मार्च में खत्म होने तक जनवरी के शुरुआती सप्ताह में सिर्फ 64 हजार टन सरकारी खातों में उत्पादन का रिकार्ड दर्ज है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: