न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आईपीएल खिलाड़ियों पर मंडरा रहा आतंकवादी हमले का खतरा, अलर्ट जारी  

खुफिया सूत्रों का कहना है कि आईपीएल खिलाड़ियों पर होटल, सड़क और पार्किंग में हमला हो सकता है.

55

Mumbai :  आतंकवाद का खतरा अब आईपीएल खिलाड़ियों पर मंडरा रहा है. खुफिया सूत्रों के हवाले से यह जानकारी सामने आयी है. जानकारी सामने आने के बाद  पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है. खुफिया सूत्रों का कहना है कि आईपीएल खिलाड़ियों पर होटल, सड़क और पार्किंग में हमला हो सकता है. खुफिया सूत्रों ने एटीएस द्वारा पकड़े गये संदिग्ध आतंकियों की पूछताछ से मिली जानकारी को आधार बनाया है.  खबर है कि आतंकियों ने पूछताछ  के क्रम में बताया था कि उन्होंने होटेल ट्राइडेंट से वानखेडे स्टेडियम तक की रेकी की थी.

mi banner add

जानकारी सामने आने के बाद मुंबई पुलिस अलर्ट हो गयी है. मुंबई पुलिस की बंदोबस्त शाखा को अलर्ट रहने और खिलाड़ियों की सुरक्षा और बढ़ाने का निर्देश जारी किया गया है. दूसरी ओर खिलाड़ियों पर आतंकी हमले के खतरे के मद्देनजर उनकी बस के साथ एस्कॉर्ट के लिए माक्समैन कॉम्बैट वाहन का इस्तेमाल करने को कहा गया है. इसके अलावा होटल और स्टेडियम में भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई जा रही है.

इसे भी पढ़ेंः पूर्व सेना प्रमुखों की राष्ट्रपति को चिट्ठी, सेना के नाम पर राजनीति से नाराज

खिलाडि़योंको बिना सुरक्षा के बाहर नहीं जाने देने की हिदायत

Related Posts

कर्नाटक : सियासी ड्रामे पर से उठेगा पर्दा,  कुमारस्वामी सरकार के भविष्य पर सोमवार को फैसला संभव

 कर्नाटक में कांग्रेस-जद(एस) सरकार रहेगी या जायेगी, इस पर सोमवार को विधानसभा में फैसला होने की संभावना है.  

मुंबई पुलिस ने किसी भी खिलाडी को बिना सुरक्षा के बाहर नहीं जाने देने की हिदायत दी है. बता दें कि पिछले दिनों न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की एक मस्जिद में हुई गोलीबारी मे बांग्लादेश क्रिकेट टीम के खिलाड़ी बाल-बाल बच गये थे. एक वीडियो सामने आया था, जिसमें दिख रहा था कि खिलाड़ी अपनी जान बचाने के लिए भाग रहे हैं. बाद में बांग्लादेश क्रिकेट टीम के खिलाड़ी तमीम इकबाल ने ट्वीट कर कहा, गोलीबारी में पूरी टीम बाल-बाल बच गयी. बेहद डरावना अनुभव था.

घटना के बाद बांग्लादेश के विकेटकीपर मुशफिकुर रहीम भी सदमे में थे. उन्होंने ट्वीट कर लिखा- क्राइस्टचर्च की मस्जिद की शूटिंग के दौरान अल्लाह ने हमें बचा लिया. हम बहुत खुशनसीब हैं. जिंदगी में आगे कभी ऐसी चीजें देखने को न मिले. हमारे लिए प्रार्थना करें.

इसे भी पढ़ेंः चुनावी बॉन्ड पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, 30 मई तक चुनाव आयोग को चंदे की जानकारी दें पार्टियां

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: