Crime NewsJharkhandLead NewsRanchi

4 जिलों की पुलिस मिलकर भी नहीं सुलझा पा रही है पूजा भारती हत्याकांड की गुत्थी

Ranchi: झारखंड पुलिस के हाथ 11 दिनों बाद भी खाली हैं. मेडिकल छात्रा पूजा भारती कि केस को पुलिस सुलझा नहीं सकी है.11 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. आज भी पूजा भारती के मौत पुलिस के लिए पहेली बनी हुई है.

पूजा के साथ क्या हुआ था ? आखिरकार कातिल कौन है ? हत्या करने के पीछे उनका मकसद क्या था ? क्या ये आत्महत्या है ? ये सभी सवाल पुलिस के लिए फिलहाल पहेली बने हुए हैं.

परिजनों के साथ ही आम लोगों में इस बात को लेकर आक्रोश है कि इतनी होनहार स्टूडेंट के साथ ऐसा क्यों हुआ. बता दें कि पुलिस अब तक पूजा का फोन तक ढ़ूंढ नहीं पाई है. पूजा के फोन का पता लगने से पुलिस को मामले के खुलासे की पूरी उम्मीद है.

इसे भी पढ़ें- हथियार के साथ ही दिमाग से भी लड़ रही है पुलिस: नक्सलियों के खिलाफ स्थानीय भाषा में हो रहा है प्रचार

डीजीपी ने बनाई है 17 सदस्यों की टीम

इस केस को सुलझाने के लिए डीजीपी द्वारा 17 सदस्यों द्वारा गठित टीम लगातार छापेमारी कर रही है. इसके साथ ही राज्य के चार जिलों की पुलिस हजारीबाग, रामगढ़, रांची और गोड्डा पुलिस मामले का खुलासा करने में लगी हुई है.

हालांकि अब तक झारखंड पुलिस को जांच में कोई सफलता मिली नहीं मिली है. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. जांच के बाद उक्त मामले का जल्द ही खुलासा कर दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें- बंपर सरकारी नौकरी : बिहार में 1175 पोस्ट पर एप्लाई करने का सुनहरा मौका

पूरे प्रकरण में क्या कहती हैं डॉ पूजा की मां

झारखण्ड के रामगढ़ जिले के पतरातू डैम 12 जनवरी को पूजा भारती का हाथ-पैर बंधा शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गयी थी. पूजा हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा थी. डॉक्टर पूजा भारती की मां कहती है मैं उस घटना को चाह कर भी नहीं भूल पा रही हूं, आखिर कैसे भूल जाऊं जब भी बेटी का चेहरा देखता हूं तो मेरा दम घुटने लगता है.

मां कहती हैं कि जिन दरिंदों ने मेरी बेटी की जिंदगी बर्बाद की है, जब तक आरोपियों को मौत की सजा नहीं मिल जाती परिवार को सुकून नहीं मिलेगा.

इसे भी पढ़ें- लालू प्रसाद के जेल मैन्युअल का मामला : रिम्स प्रबंधन की ओर से जवाब नहीं देने पर हाई कोर्ट ने जतायी नाराजगी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: