SportsTOP SLIDERWorld

हैंड ऑफ गॉड के लिए याद किये जाने वाले महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना नहीं रहे… हार्ट अटैक से निधन…

गांगुली ने लिखा, मेरा हीरो नहीं रहा. माय मैड जीनियस रेस्ट इन पीस. मैं आपके लिए फुटबॉल देखता था. गांगुली ने 2017 में कोलकाता में माराडोना के साथ एक चैरिटी मैच भी खेला था. 

Buenos Aires : महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना की 60 साल की उम्र में कार्डिएक अरेस्ट के कारण निधन हो जाने की खबर है. अर्जेंटीना की स्थानीय मीडिया ने बुधवार को यह खबर दी. इस खबर से पूरे विश्व में शोक की लहर है. माराडोना ब्राजील के पेले के साथ दुनिया के महानतम फुटबॉलरों में गिने जाते थे.  माराडोना को अपने घर पर ही हार्ट अटैक आया था. खेल जगत के साथ ही पूरा अर्जेंटीना इस समय शोक में डूब गया है और देश के राष्ट्रपति एलबर्टो फर्नाडेज ने तीन दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया

इसे भी पढ़ें : अहमद पटेल के निधन पर कांग्रेसी बोले- कांग्रेस ने अपना ‘चाणक्य’ खो दिया

क्लाउडियो तापिया ने माराडोना के निधन पर गहरा शोक जताया

अर्जेंटीना फुटबॉल असोसिएश के प्रेजिडेंट क्लाउडियो तापिया ने माराडोना के निधन पर गहरा शोक जताया है. जानकारी के अनुसार दो सप्ताह पहले उन्हें ब्रेन में क्लॉट की वजह से सर्जरी करवानी पड़ी थी.  माराडोना ने अपने करियर की शुरुआत 16 साल की उम्र में अर्जेंटीना की जूनियर टीम के साथ की थी. इसके बाद वह दुनिया के सर्वकालिक महान फुटबॉलर में शामिल हो गये.

इसे भी पढ़ें :  कोरोना संकट: गृह मंत्रालय की नयी गाइडलाइंस जारी, 31 दिसंबर तक लागू

अर्जेंटीना को 1986 फुटबॉल वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाई

उन्होंने अर्जेंटीना को 1986 फुटबॉल वर्ल्ड कप जितवाने में अहम भूमिका निभाई थी. माराडोना ने बोका जूनियर्स, नेपोली और बार्सेलोना के अलावा अन्य क्लब के लिए भी खेले हैं. माराडोना को इंग्लैंड के खिलाफ 1986 के टूर्नमेंट में हैंड ऑफ गॉड के लिए याद किया जाता है. माराडोना के वकील ने इस खबर की पुष्टि कर दी. माराडोना 11 नवंबर को अस्पताल से बाहर आये थे. इससे आठ दिन पहले उन्हें इमर्जेंसी ब्रेन सर्जरी के लिए भर्ती करवाया गया था.

माराडोना के निधन पर अर्जेंटीना में तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा कर दी गई है। दुनिया भर के फुटबॉल प्रेमियों में इस खबर से शोक की लहर दौड़ गई है और सोशल मीडिया पर इस महान फुटबॉलर को श्रद्धांजलि दी जा रही है.

प्रधानमंत्री मोदी ने शोक व्यक्त किया

प्रधानमंत्री मोदी ने महान फुटबॉल खिलाड़ी डिएगो माराडोना के निधन पर  शोक व्यक्त किया और कहा कि अपने करियर के दौरान खेल के मैदान में उन्होंने खेल प्रेमियों को कई बेहतरीन लम्हों का अनुभव कराया.  मोदी ने ट्वीट किया, दिएगो माराडोना फुटबॉल के एक दिग्गज खिलाड़ी थे, जिन्हें वैश्विक लोकप्रियता हासिल थी.

अपने पूरे करियर के दौरान उन्होंने हमें फुटबॉल के मैदान के कई बेहतरीन लम्हें दिये.  उनके असामयिक निधन ने हम सभी को दुखी किया है. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें.

भारतीय खेल समुदाय शोक में डूब गया

डिएगो माराडोना के निधन से भारतीय खेल समुदाय भी शोक में डूब गया है. सोशल मीडिया पर माराडोना को श्रृद्धांजलि दी गयी. भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष   टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि उन्होंने अपने नायक को खो दिया.

गांगुली ने लिखा, मेरा हीरो नहीं रहा

गांगुली ने लिखा, मेरा हीरो नहीं रहा. माय मैड जीनियस रेस्ट इन पीस. मैं आपके लिए फुटबॉल देखता था. गांगुली ने 2017 में कोलकाता में माराडोना के साथ एक चैरिटी मैच भी खेला था. भारतीय फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल ने ट्वीट किया, अर्जेंटीना के महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना फुटबॉल के मैदान पर एक जादूगर की तरह थे. फुटबॉल ने आज एक नगीना खो दिया. उनका नाम फुटबॉल के इतिहास में हमेशा के लिए दर्ज रहेगा.

इसे भी पढ़ें : सरकार ने लक्ष्मी विलास बैंक के डीबीएस बैंक में विलय को मंजूरी दी, निकासी की सीमा भी हटायी

डिएगो माराडोना,आपकी कमी खलेगी : सचिन तेंदुलकर

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने लिखा, फुटबॉल और विश्व खेल जगत ने आज महानतम खिलाड़ियों में से एक खो दिया. ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे डिएगो माराडोना.आपकी कमी खलेगी. स्टायलिश बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने लिखा, खेल के महानायकों में एक एक डिएगो माराडोना का निधन. खेल जगत के लिए दुखद दिन. उनके परिवार, दोस्तों और हितैषियों के प्रति संवेदना.’

भारत के पूर्व हॉकी कप्तान वीरेन रासकिन्हा ने लिखा, ‘तमाम यादों और पागलपन के लिए धन्यवाद. भारत के पूर्व फुटबॉलर आईएम विजयन ने लिखा, फुटबॉल के भगवान, भगवान आपकी आत्मा को शांति दे.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: