न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

श्रीनगर : अलगाववादियों का धरना प्रदर्शन विफल करने के लिए बढ़ाई गई सुरक्षा

मंगलवार को लगातार दूसरे दिन यहां सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा.

85

Srinagar : श्रीनगर के लाल चौक पर अलगाववादियों के धरना प्रदर्शन को विफल करने के लिए अधिकारियों ने शहर के कुछ हिस्सों में पाबंदिया लगा दी. जिसके बाद मंगलवार को लगातार दूसरे दिन यहां सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा.

अलगाववादियों ने रविवार को कुलगाम जिले में मुठभेड़ स्थल पर हुए विस्फोट में सात लोगों की मौत के खिलाफ विरोध जाहिर करने के लिए धरना प्रदर्शन की योजना बनाई है.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ लाइसेंस रखने वाले दुकानदार ही दीवाली पर बेच पायेंगे पटाखे, ऑनलाइन बिक्री पर रोकः SC

hosp1

सार्वजनिक यातायात के साधन सड़कों से नदारद

अधिकारियों ने बताया कि लाल चौक के ऐतिहासिक घंटाघर तक जाने वाले सारे रास्तों को सील कर दिया गया है. अलगाववादियों के वहां पहुंचने की किसी भी कोशिश को नाकाम करने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस एवं अर्धसैनिक बलों के कर्मियों की तैनाती की गई है.

जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी के कई हिस्सों में दुकानें, निजी कार्यालय और अन्य कारोबारी प्रतिष्ठान बंद रहे जबकि सार्वजनिक यातायात के साधन सड़कों से नदारद रहे.

इसे भी पढ़ें : भारतीय सेना ने पाकिस्तान से कहा- अपने लोगों के शव ले जाओ

अलगाववादियों ने मंगलवार को हड़ताल नहीं बुलाई. लेकिन अधिकारियों ने सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रखे एवं परीक्षाएं स्थगित कर दी.

मुठभेड़ स्थल पर आम नागरिकों की मौत 

सोमवार को जहां बंद देखने को मिला वहीं दक्षिण कश्मीर में कुलगाम जिले के लारू इलाके में मुठभेड़ स्थल पर आम नागरिकों की मौत को लेकर अलगाववादियों ने लाल चौक पर धरना प्रदर्शन का आह्वान किया.

अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारुक और मोहम्मद यासिन मलिक ने संयुक्त प्रतिरोध नेतृत्व (जेआरएल) के बैनर तले इस विरोध कार्यक्रम की घोषणा की. मीरवाइज और गिलानी को नजरबंद रखा गया है.

इसे भी पढ़ें : मोदी शासन में सीबीआई खुद से ही जंग लड़ रही : राहुल गांधी

रविवार को कुलगाम मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे. जबकि गोलीबारी के बाद हुए विस्फोट में सात आम नागरिकों की मौत हो गई थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: