न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दुमका : सीनियर छात्र करते थे जूनियर छात्रों से नशे के नाम पर वसूली

रकम बढ़ती चली गयी और लगभग 30,000/- रूपए तक पहुंच चुकी थी.

376

Dumka : शहर के बक्सी बांध स्थित संत जोसेफ स्कूल, दुमका में जूनियर छात्रों से सीनियर छात्रों द्वारा धमकाकर नशे के लिए पैसा उगाही का मामला प्रकाश में आया है. इस बाबत अभिभावकों ने नगर थाना में लिखित शिकायत की है. अभिभावकों का आरोप है कि सीनियर छात्र द्वारा जूनियर छात्रों को नशे की लत लगाकर 100-200 रूपए तक की वसूली की जाती है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें : IAS, IPS और टेक्नोक्रेटस छोड़ गये झारखंड, साथ ले गये विभाग का सोफासेट, लैपटॉप, मोबाइल,सिमकार्ड और आईपैड

घर से रूपए गायब होने पर हुई आशंका

अभिभावकों का कहना है कि 6 – 7 क्लास के छात्रों को डरा-धमकाकर घर से रुपए चोरी कराने का काम संगठित रूप से सीनियर छात्र कर रहे हैं. घर से चोरी कर रूपए मंगाने वाले छात्र भी उसी स्कूल के सीनियर क्लास के हैं. दरअसल जब घर से रूपये गायब होने लगे तो अभिभावकों को शक हुआ और उन्होंने अपने बच्चों से सख्ती से पूछताछ की तो मामले का खुलासा हुआ. फिर बाकी पीड़ित छात्रों के नाम का भी खुलासा हुआ. पीड़ित छात्रों के अभिभावकों द्वारा 12 सितंबर 2018 को विद्यालय प्रबंधक को इस मामले की जानकारी दे दी गई.

इसे भी पढ़ें- घुटन में माइनॉरटी IAS ! सरकार पर आरोप- धर्म देखकर साइड किए जाते हैं अधिकारी

बदनामी के डर से मामले को किया गया रफा-दफा

Related Posts

बकरी बाजार मैदान में कॉम्प्लेक्स बनाने के निर्णय को रद्द करने की मांग, AAP ने मेयर को सौंपा ज्ञापन

पार्टी ने मांग की कि उस मैदान को बच्चों के खेल के मैदान-पार्क के रूप में विकसित किया जाये

विद्यालय प्रबंधक फादर (फादर पायस) ने दो आरोपी छात्र के अभिभावकों को बुलाकर भविष्य में ऐसा ना करने को लेकर 24 घंटे में एक्शन लेने के बारे में कहकर वापस भेज दिया गया. इसके बाद स्कूल की बदनामी के डर से मामले को रफा-दफा भी कर दिया गया था. मामला सिर्फ रूपए तक सीमित नहीं था. आरोपी छात्र नशीले पदार्थ जैसे की डेन्डराइट, व्हाइटटनर, चार्जेबल इलेक्ट्रॉनिक निकोटिन युक्त सिगरेट, चरस आदि जबरन पीड़ित छात्रों को पिलाने, सुंघाने का भी काम करते थे. फिर छात्रों की फोटो मोबाइल से खींचकर पिता को दिखाने की धमकी देकर 100/200 रूपए चोरी करके घर से मंगवाने का कांम करते थे. लेकिन धीरे-धीरे रकम बढ़ती चली गयी और लगभग 30,000/- रूपए तक पहुंच चुकी थी.

इसे भी पढ़ें: झारखंड की तीन और बिहार की छह सीटों पर चुनाव लडे़गी भाकपा माले

जूनियर्स को कोल्डड्रिंक में शराब मिलाकर पिलाते थे सीनियर

पीड़ित छात्रों से उनके सीनियर हैसियत के अनुसार रकम की मांग करते थे. जिसकी रकम 1000-2000 से 10,000 तक रूपए आमतौर पर होते हैं. जो छात्र रूपए देने में आनाकानी करते थे. उनके साथ मारपीट के अलावा मारने तक की धमकी सीनियर छात्र देते थे. इसके अलावा खबर ये भी है कि सीनियर छात्र अपने जूनियर छात्रों को कोल्डड्रिंक में शराब मिलाकर पिलाने का काम करते थे. जिससे पीड़ित छात्र नशे की गर्त में जा कर भी नशे का आदि बना रहे हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: