न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साहेबगंज : समदा घाट में मालवाहक जहाज पर लदे, पांच हाईवा नदी में गिरे, चार जहाज पर ही पलटे, अफरा-तफरी

साहेबगंज की सकरीगली के समदा घाट में रविवार सुबह लगभग 6:30 बजे एक बड़ा हादसा होते होते टल गया.

1,053

Sahibganj :साहेबगंज की सकरीगली के समदा घाट में  रविवार सुबह लगभग 6:30 बजे एक बड़ा हादसा होते होते टल गया.जानकारी कें अनुसार समदा घाट से यात्रियों कें लिए फेरी सेवा चलती हैं और मालवाहक जहाज भी चलते हैं.  जहाज झारखंड कें साहेबगंज से बिहार कें मनिहारी तक चलते हैं.  इसके जरिए हजारो लोग रोज गंगा नदी पार करते हैं. साथ ही मालवाहक जहाज से सैकडों गाडिया स्टोन चिप्स लेकर बिहार की मनिहारी जाती हैं.  वहां से गाड़ियां बिहार के अलावा अन्य प्रांतों में जाती हैं.  वहां से गाड़ियां बिहार के अलावा अन्य प्रांतो में जाती हैं.  बता दें कि आज सुबह करीब 6:30 बजे जहाज डूबने की खबर ज़िले में आग की तरह फैल गयी.  घटना की जनकारी मिलते ही हजारो लोग समदा घाट पहुंचे. वहा पहुंच कर  लोगों ने राहत की सांस ली,  क्योंकि जहाज डूबने की बात महज अफवाह साबित हुई. दरअसल जहाज पर  9 स्टोन चिप्स लदे हाईवा लोड थे.  तभी अचानक मालवाहक जहाज एकतरफा झुक गया,  जिससे जहाज में एक साइड में खड़े किये गये पांच हाईवा गंगा नदी में पलट कर डूब गये.  साथ ही चार हाईवा जहाज पर ही पलट कर रह गये. घटना की चश्मदीद मनिहारी निवासी शकुन्तला देवी ने बताया कि मैं मनिहारी जाने के लिए जहाज पकड़ने आयी थी,  तभी दूसरी तरफ देखा तो नजर आया कि अचानक मालवाहक जहाज असंतुलित होकर हिलने  लगा व देखते देखते गाड़ियां पानी में पलट गयी.  वहां अफरा तफरी मच गयी.

इसे भी पढ़ें : पत्रकारों ने पूछा मंत्री जी, सदर अस्पताल में कफ सिरप तक नहीं, स्वास्थ्य मंत्री ने कहा : फालतू आदमी…

 पुलिस इंस्पेक्टर ने कहा

घटना की जानकारी मिलते ही सदर पुलिस इंस्पेक्टर रामसागर तिवारी मुफस्सील थाना प्रभारी राम हरीश निराला के साथ घटना स्थल पर पहुंचे व घटना की जानकारी ली. वे नदी में डूबे हाईवा निकालने के रेस्क्यू अभियान में लग गये. पुलिस इंस्पेक्टर रामसागर तिवारी ने बताया कि सुबह करीब 6:35 बजे घटना कें विषय में जानकारी हुई घटना स्थल पर आया तो देखा कि मालवाहक जहाज पर हाईवा पलटे हुए हैं. लोगों से पूछताछ की तो जानकारी मिली कि पांच हाईवा गंगा नदी में पलट गये हैं. कहा कि जब हाईवा बाहर निकलेंगे तभी पता चलेगा कि जानमाल का नुकसान हुआ है या नही.

इसे भी पढ़ें : पूर्व जिला अभियंता शिव कुमार की कंपनी हाई 10 राज्य में कर रही है 200 करोड़ का काम

 घाट प्रबंधक ने कहा,  एक भी व्यक्ति के डूबने की आशंका नहीं है

घटना कें विषय में जानकारी देते हुए घाट प्रबंधक पूर्व विधायक गोड्डा संजय यादव ने बताया कि  घट्ना की जानकारी हुई तो घाट पहुंचा. घटना के विषय में अपने कर्मचारियो से बात की. बताया कि सुबह सबसे पहले जो मालवाहक जहाज खुलता है, वह रात में ही लोड हो जाता है, ताकी सुबह समय पर जहाज खुल सके.  आज सुबह गंगा का जलस्तर अचानक कम हो गया, जिससे जहाज पानी से थोड़ा उपर उठ गया व असंतुलित हो गया, जिससे जहाज पर लदे हाईवा में से पांच नदी में गिर गये व चार जहाज पर ही पलट गये. जानकारी दी कि इस जहाज से केवल गाड़ियां जाती हैं, इसलिए एक भी व्यक्ति की डूबने की आशंका नहीं है.  हाईवा रात में ही जहाज पर लोड हो गये थे, इसलिए ड्राइवर व खलासी भी हाईवा में मौजूद नहीं थे. बताया कि अभी पूर्णिया से क्रेन मंगाया गया है, उसके आते ही सभी हाईवा नदी से निकाले जायेंगे.  उसके बाद सुचारू रूप से जहाज चलेंगे.

लापरवाही के कारण हादसा हुआ है, जान माल का नुकसान हुआ है, इसका पता तब चलेगा जब नदी में डूबे हाईवा निकाले जायेंगे :  पुलिस इंस्पेक्टर रामसागर तिवारी.

गंगा में डूबे हाईवा निकालने के लिए पूर्णिया से क्रेन मंगाई जा रही है.  अचानक गंगा का जलस्तर कम हो जाने के कारण हादसा हुआ है : पूर्व विधायक गोड्डा संजय यादव व प्रबंधक फेरी घाट समदा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: