न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: 22 पीजीटी शिक्षकों को मिला नियुक्ति पत्र, देखिये सूची

दिव्यांग शिक्षिका को नियुक्ति पत्र देने के लिए जमीन पर बैठे उपायुक्त

84

Palamu: पारा शिक्षकों की हड़ताल के बाद शिक्षकों की कमी झेल रहे पलामू जिले में सोमवार को राहत की खबर आयी. जिले के लिए चयनित 106 पीजीटी शिक्षिकों में से 22 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया गया. इनमें जीव और रसायन विज्ञान के 12-12, वाणिज्य के 07, अर्थशास्त्र के 11, अंग्रेजी के 05, हिंदी के 06, इतिहास के 09, गणित के 17, भौतिक विज्ञान और भूगोल के 8-8 और संस्कृत विषय में 11 शिक्षक-शिक्षिकाएं शामिल हैं.

उपायुक्त ने दिये नियुक्ति पत्र

जिले के उपायुक्त डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने अपने कार्यालय वेश्म में एक सादे समारोह के दौरान 22 नवचयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपे. इस मौके पर अन्य लोगों के अलावा जिला शिक्षा पदाधिकारी सुशील कुमार, जिला कल्याण पदाधिकारी सुभाष कुमार, जिला परिवहन पदाधिकारी शैलेश कुमार और डीपीआरओ डीएन भादुड़ी मौजूद थे.

सभी नवनियुक्त शिक्षक-शिक्षिकाओं को चिक्त्सिा एवं सभी शैक्षणिक प्रमाण पत्रों की छायाप्रति के साथ तीन दिनों के अन्दर जिला शिक्षा पदाधिकारी के कार्यालय में योगदान देना है. इसके बाद उनकी विभिन्न विद्यालयों में पदस्थापन की जाएगी. उपायुक्त ने सभी नव चयनित शिक्षक-शिक्षिकाओं को नियुक्ति पत्र वितरित करते हुए शुभकामनाएं दी तथा शिक्षण कार्य में पुरी कर्त्वय निष्ठा के साथ कार्य करने का निदेश दिया.

नियुक्ति पत्र प्राप्‍त करने वालों की सूची 

उपायुक्त ने आज जिन नव नियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपे, उनमें ताहरा परवीन, सुजाता पासवान, पूनम कुमारी, चंचला कुमारी, शिल्पी सोनी, सुषमा कुमारी, शगुफ्ता यास्मिन, नीति सिंह, सुमन कुमारी, मिनी कुमारी, बबली कुमारी, उमाकांत सिंह, अनिल प्रसाद, राकेश कुमार, विक्रम कुमार दुबे, रघुनंदन तिवारी, रंजीत कुमार, मनोज कुमार साव, सतीश चन्द्र वर्मा, धीरेन्द्र कुमार मिश्रा, अभिषेक कुमार दुबे और रवि कुमार यादव शामिल हैं. इनमें चंचला कुमारी निःशक्त हैं.

गौरतलब है कि पलामू जिले को हाई स्कूल के कुल 106 नये शिक्षक मिले हैं. इन शिक्षकों को तीन दिनों के भीतर योगदान देने का निर्देश दिया गया है.

इसे भी पढ़ें: सीएम ने पूछा, आधुनिक से 3.60 रुपये प्रति यूनिट तो इंलैंड से 4.05 रुपये प्रति यूनिट बिजली खरीद क्यों?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: