न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ट्रैवल के दौरान न हो परेशानी, जाने कैसे रोकें उल्टियां

इसके लिए हम आपको ऐसे उपाय बता रहे हैं जो उल्टी को आने नहीं देंगे.

113

NW Desk : लगभग सभी को ट्रैवलिंग करना पसंद है. लेकिन कई बार यह सिरदर्द का कारण बन जाती है. ट्रेवलिंग के दौरान आपका शरीर कई बार कुछ ऐसे रिएक्ट करता है जिसे आप नहीं चाहते. सफर के दौरान उल्टी और जी मचलने से सारा मजा खत्म हो जाता है. यही कारण है कि कई लोग ट्रैवल नहीं करना चाहते है. लोग उल्टी से बचने के लिए घर से खाली पेट ही निकलते हैं. लेकिन इससे गैस या अफरा जैसी समस्याएं पैदा हो सकती है. सफर के दौरान आपको उल्टियां परेशान ना करे और आप अपना ट्रिप एंजॉय कर पाएं. इसके लिए हम आपको ऐसे उपाय बता रहे हैं जो उल्टी को आने नहीं देंगे.

इसे भी पढ़ें : नरेंद्र मोदी ने कहा, प्रधानमंत्री आवास योजना गरीबी के विरुद्ध सरकार का संघर्ष    

दालचीनी है वरदान

अगर आपको ट्रैवल के दौरान उल्टी होती है तो दालचीनी आपके लिए वरदान साबित होगी. आपको इसे अपने साथ कैरी करने की भी जरुरत नहीं है. बस एक बोतल में पानी तैयार कर रखना होगा. इसके लिए आपको करना बस इतना है कि एक कप गरम पानी में एक दालचीनी डालकर उबाल लें. इसमें हल्का शहद भी मिला सकते हैं. अब जब भी आपको घर से निकलना हो तो इसका एक कप पी लें. आप इसे एक बोतल में डालकर अपने साथ भी रख सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : धू…धू…कर जल रहा था रावण, पटाखों के शोर के बीच ट्रेन की चपेट में आये 61 लोगों की मौत, 50…

सौंफ भी है फायदेमंद

मानें या न मानें लेकिन ट्रैवल के दौरान अगर आपको उल्टियां होती है तो सौंफ इसे दूर करने में मदद करती है. आपको बस करना यह है कि घर से निकलते समय सौंफ खाकर निकले. इसके अलावा आप सौंफ को अपने बैग में भी रखें. सौंफ खाकर जाने से आपको उलटी नहीं आएगी और अगर आपको थोड़ी बहुत महसूस होने पर सौंफ खाकर इसे दूर किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें : भरपेट भोजन की खातिर एक विकेट पर दस रुपये पाने वाले पापू देवधर ट्रॉफी के लिये तैयार

काली मिर्च और नींबू

उलटी आने से पहले मन खराब भी होता है और अक्सर चक्कर महसूस होता हैं. ऐसे में काली मिर्च और नींबू का घरेलू नुस्खा खूब काम आता है. अगर आपको भी उलटी से पहले चक्कर महसूस हो रहा हो. तो घर से निकलने के पहले एक कप गरम पानी में आधा नींबू निचोड़े और इसमें चुटकीभर काली मिर्च पाउडर मिलाकर पी लें. इससे आपको राहत मिलेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें
स्वंतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता का संकट लगातार गहराता जा रहा है. भारत के लोकतंत्र के लिए यह एक गंभीर और खतरनाक स्थिति है.इस हालात ने पत्रकारों और पाठकों के महत्व को लगातार कम किया है और कारपोरेट तथा सत्ता संस्थानों के हितों को ज्यादा मजबूत बना दिया है. मीडिया संथानों पर या तो मालिकों, किसी पार्टी या नेता या विज्ञापनदाताओं का वर्चस्व हो गया है. इस दौर में जनसरोकार के सवाल ओझल हो गए हैं और प्रायोजित या पेड या फेक न्यूज का असर गहरा गया है. कारपोरेट, विज्ञानपदाताओं और सरकारों पर बढ़ती निर्भरता के कारण मीडिया की स्वायत्त निर्णय लेने की स्वतंत्रता खत्म सी हो गयी है.न्यूजविंग इस चुनौतीपूर्ण दौर में सरोकार की पत्रकारिता पूरी स्वायत्तता के साथ कर रहा है. लेकिन इसके लिए जरूरी है कि इसमें आप सब का सक्रिय सहभाग और सहयोग हो ताकि बाजार की ताकतों के दबाव का मुकाबला किया जाए और पत्रकारिता के मूल्यों की रक्षा करते हुए जनहित के सवालों पर किसी तरह का समझौता नहीं किया जाए. हमने पिछले डेढ़ साल में बिना दबाव में आए पत्रकारिता के मूल्यों को जीवित रखा है. इसे मजबूत करने के लिए हमने तय किया है कि विज्ञापनों पर हमारी निभर्रता किसी भी हालत में 20 प्रतिशत से ज्यादा नहीं हो. इस अभियान को मजबूत करने के लिए हमें आपसे आर्थिक सहयोग की जरूरत होगी. हमें पूरा भरोसा है कि पत्रकारिता के इस प्रयोग में आप हमें खुल कर मदद करेंगे. हमें न्यूयनतम 10 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए से आप सहयोग दें. हमारा वादा है कि हम आपके विश्वास पर खरा साबित होंगे और दबावों के इस दौर में पत्रकारिता के जनहितस्वर को बुलंद रखेंगे.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: