न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अखबार ने 2017 के सर्वे को ताजा सर्वे बताकर रघुवर दास को बताया सबसे पसंदीदा मुख्यमंत्री

हेमंत सोरेन ने अखबार की निष्पक्षता पर उठाए सवाल, सोशल मीडिया पर उड़ रहा मजाक

4,032

Ranchi: झारखंड के एक प्रतिष्ठित अखबार ने एक सर्वे का हवाला देते हुए खबर छापी की मुख्यमंत्री के रुप में रघुवर दास झारखंड की 65 फीसदी जनता की पहली पसंद हैं. अखबार ने दावा किया है कि मुख्यमंत्री रघुवर दास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पसंदीदा सीएम हैं. क्या अखबार की ये रिपोर्ट नवीनतम सर्वेक्षण के आधार पर थी ? कहीं 2017 की रिपोर्ट को अखबार ने हालिया सर्वे  बता कर हु-ब-हू तो नहीं छाप दिया ?

इसे भी पढ़ें-निजी विश्वविद्यालयों पर कसेगा सरकार का शिकंजा

हेमंत सोरेन ने खोली सर्वे की पोल

हेमंत सोरेन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है-

क्या आपका प्रतिष्ठित अख़बार अब चाटुक़ारिता में कीर्तिमान स्थापित करना चाहता है ? एक वर्षों पुराने ख़बर को आप ताज़ा ख़बर बोल मुख्य पृष्ट पर जगह दे रहें हैं । शर्म आप सब में बची भी है या उसकी तिलांजलि दे चुके हैं सत्ता के आगे

इसके साथ ही हेमंत सोरेन ने एक लिंक पोस्ट किया है, जिसमें ये साफ दिख रहा है कि अखबार ने 2017 की खबर को 2018 का बताकर पहले पन्ने पर जगह दी है.

अखबार की वो खबर जिसपर उठ रहा सवाल
अखबार की वो खबर जिसपर उठ रहा सवाल

न्यूज एजेंसी यूएनआई (UNI) ने सितंबर 2017 में छापी थी खबर

हैरानी की बात ये है कि जिस सर्वे को ताजा सर्वे बताकर अखबार वाहवाही लूटने का प्रयास कर रहा है, ये खबर न्यूज एजेंसी यूएनआई (UNI) की है. यूएनआई (UNI) ने 21 सितंबर 2017 को खबर प्रकाशित की थी, जिसे उस वक्त भी अखबारों में जगह मिली थी.

यूएनआई की खबर पढ़ने के लिए

इस लिंक पर क्लिक करें- 65 PERCENT PEOPLE OF JHARKHAND HAPPY WITH PERFORMANCE OF PM MODI

समाचार एजेंसी UNI ने 21 सितंबर 2017 को छापी थी खबर
समाचार एजेंसी UNI ने 21 सितंबर 2017 को छापी थी खबर

अखबार की खबर को इलेट्रॉनिक्स मीडिया में भी मिल रही जगह

palamu_12

एक और बात जो हैरान करने वाली है वो ये कि  झारखंड के अखबार ने करीब एक साल पुराने सर्वे कोताजा सर्वे बता कर पहले पन्ने पर जगह दी. अब अखबार की खबर को उठाकर टेलिवीजन चैनल्स भी सीएम रघुवर दास को 65 फीसदी जनता की पसंद बता रहे हैं. क्या उन चैनलों ने भी तथ्य पता करने की कोशिश नहीं की ?

इसे भी पढ़ें-रांची ‘सुसाइड’ कांड में पुलिस की थ्योरी- दीपक और उसके भाई ने पहले परिवार के पांच सदस्यों की हत्या की, फिर दोनों ने लगा ली फांसी

सोशल मीडिया पर अखबार और सीएम का उड़ रहा मजाक

कई ट्विटर यूजर्स अखबार की खबर और सीएम की लोकप्रियता का मजाक उड़ा रहे हैं.

ट्विटर यूजर अनुपम लिखते हैं-

ये बेहद दुखद और बेहूदा लगता है जब प्रतिष्ठित अखबार और उसके पत्रकार थोड़े से फायदे के लिए जनता को गुमराह कर रहे हैं. खबर एक साल पुरानी है और उसे ताजा खबर बताकर परोसा जा रहा है. ये चमचागिरी नहीं तो और क्या है ?

एक और ट्विटर यूजर मुसलेउद्दीन लिखते हैं-

यह सब चाटुकार मीडिया का कमाल है जो झारखंड राज्य में भ्रम फैला रहा है

सबसे मजेदार कमेंट ट्विटर यूजर रॉक एंड रोल के नाम से है, उन्होने लिखा है-

अखबार ने सीएम रघुवर दास की चमचागिरी करने के चक्कर में उनको उपहास का पात्र बना दिया. ऐसे चमचों से नरेन्द्र मोदी और रघुवर दास की रक्षा करना भगवान!

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: