JharkhandNEWS

नये मेडिकल कॉलेजों की व्यवस्था नहीं हुई ठीक तो केवल 480 सीटों में होगा एडमिशन

एक अगस्त को होना है नीट

Ranchi : 17 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखण्ड में तीन नये मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ किया. ये तीन मेडिकल कॉलेज हजारीबाग, दुमका और पलामू में शुरू हुए. ये तीनों कॉलेज अपनी अव्यवस्था की वजह से चर्चा में रहे हैं. साल 2019 में शुरू हुए पहले बैच में एडमिशन की अनुमति तो नेशनल मेडिकल कमीशन ने दे दी पर साल 2020 में व्यवस्था ठीक नहीं होने का हवाला देकर नेशनल मेडिकल कमीशन ने एडमिशन पर रोक लगा दी. इसके बाद सीएम हेमंत सोरेन ने नामांकन की अनुमति के लिए पत्र लिखा पर नेशनल मेडिकल कमीशन की और से एप्रूवल नहीं मिल सका. इस वजह से साल 2020 में एडमिशन नहीं हो सका.

इसे भी पढ़ें: डोली से उतरते ही दुल्हन ने पति व परिजनों संग किया पौधारोपण 

advt

अब तक व्यवस्था ठीक करने की ओर नहीं ध्यान

झारखंड के छह-छह सरकारी और एक प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में कुल 780 सीट है. बीते साल सीएम हेमंत सोरेन ने कोरोना का हवाला देते हुए मेडिकल कॉलेजों की व्यवस्था ठीक नहीं कर पाने की बात कही थी. इसके बाद बात आयी गयी हो गयी. अब साल 2021 में एडमिशन लिया जायेगा. पर सरकार की ओर मेडिकल कॉलेजों की व्यवस्था दुरुस्त करने के कोई कदम नहीं उठाये गए हैं. सरकार ने इस और ध्यान नहीं दिया तो इस साल भी 300 सीटों में एडमिशन का मौका राज्य के बच्चे गंवा देंगे.

एक अगस्त को होना है नीट

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने नेशनल इलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) के तारीखों की घोषणा कर दी है. एनटीए की ओर से यह परीक्षा 01 अगस्त 2021 दिन रविवार को ली जायेगी. परीक्षा देशभर में हिंदी और अंग्रेजी के साथ 11 भाषाओं में होगी. ये भाषाएं असमी, बंगला, गुजराती, कन्नड़, मराठी, ओड़िया, तमिल, उर्दू और तेलुगु है. परीक्षा पेन पेपर बेस्ड होगी.

ऐसे मिलता है एडमिशन

नीट टेस्ट के बाद रिजल्ट जारी किया जाता है. इस रिजल्ट के आधार सभी मेडिकल कॉलेजों की 15 फीसदी सीटों में सेंट्रल कॉमन मेरिट लिस्ट से एडमिशन मिलता है. इसके अलावा कॉलेजों की 85 सीटों पर अलग-अलग राज्यों में मौजूद संस्थाएं स्टेट मेरिट लिस्ट तैयार करती हैं. इसी स्टेट मेरिट लिस्ट के आधार पर राज्य में मौजूद मेडिकल कॉलेजों में दाखिला लिया जाता है.

झारखंड के सात मेडिकल कॉलेजों में हैं 780 सीट

नीट स्कोर के आधार पर झारखंड में एडमिशन की बात करें तो यहां सात मेडिकल कॉलेज हैं. जिसमे से छह कॉलेज झारखंड सरकार चलाती है. वहीं एक प्राइवेट कॉलेज है. राज्य सरकार की ओर से जो कॉलेज चलाये जाते हैं वे एमजीएम जमशेदपुर, पीएमसीएच धनबाद, रिम्स रांची, दुमका मेडिकल कॉलेज दुमका, पलामू मेडिकल कॉलेज पलामू और हजारीबाग मेडिकल कॉलेज हजारीबाग हैं. जो प्राइवेट कॉलेज है वो मणिपाल टाटा मेडिकल कॉलेज बारीडीह जमशेदपुर है. इन सात मेडिकल कॉलेज में 780 सीट है.

ऐसी है सीटों की संख्या

एमजीएम जमशेदपुर : 100

पीएमसीएच धनबाद : 50

रिम्स रांची : 180

मणिपाल टाटा मेडिकल कॉलेज बारीडीह जमशेदपुर : 150

दुमका मेडिकल कॉलेज दुमका : 100

पलामू मेडिकल कॉलेज पलामू : 100

हजारीबाग मेडिकल कॉलेज हजारीबाग : 100

इसे भी पढ़ें: Giridih News: कुएं में गिरा हाथी का बच्चा, वन विभाग की टीम बाहर निकालने में जुटी

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: