National

NCP नेता उदयन राजे भोंसले ने थामा BJP का हाथ, अमित शाह की मौजूदगी में हुए पार्टी में शामिल

New Delhi: NCP के कद्दावर नेता और छत्रपति शिवाजी के वंशज उदयन राजे भोंसले शनिवार को भाजपा में शामिल हो गए. इस अवसर पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस मौजूद थे.

Jharkhand Rai

Samford

शाह ने कहा कि कठिन समय में स्वदेश और स्वधर्म के लिए बहुत बड़ा वैचारिक आंदोलन शुरू करने और संघर्ष करके स्वराज की स्थापना करने वाले छत्रपति शिवाजी के वंशज उदयन राजे जी आज भाजपा में आये हैं. पार्टी अध्यक्ष ने कहा कि वह भाजपा के करोड़ों कार्यकर्ताओं की ओर से उनका हार्दिक स्वागत करते हैं.

इसे भी पढ़ेंः#HindiDiwas साल 1949 में हिन्दी बनी राजभाषा, 1953 में मनाया गया पहला हिन्दी दिवस

‘विधानसभा चुनाव में मिलेगा जनसमर्थन- शाह

उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र की जनता 2014 से ही मोदी जी के साथ मन से जुड़ी है और 2019 में भी इसकी पुनरावृत्ति वहां हुई. मुझे पूर्ण विश्वास है कि इस बार विधानसभा में भाजपा पहले से भी ज्यादा मजबूत होकर आएगी और हमारा गठबंधन तीन चौथाई से भी अधिक बहुमत के साथ सरकार बनाएगा.’’

राजे का स्वागत करते हुए शाह ने कहा कि यह हर्ष की बात है कि नैतिकता के आधार पर भाजपा में शामिल होने से पहले उन्होंने लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया.

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र से जो परिणाम आए थे, उससे भी अच्छे परिणाम विधानसभा चुनाव में आएंगे. महाराष्ट्र का खोया हुआ गौरव लौटाने का काम देवेंद्र फडणवीस जी की सरकार ने किया है. विधानसभा चुनाव में हमें पूरा जनसमर्थन मिलेगा तथा इस लक्ष्य में उदयन राजे काफी सहायक होंगे.

इसे भी पढ़ेंःबड़बोले इमरान ने फिर उगला जहरः पाकिस्तानियों से कहा- अभी नहीं जब मैं कहूंगा तब LoC पर जाना

राजे के आने से बढ़ेंगी पार्टी की ताकत- फडणवीस

शाह ने कहा कि जनसंघ के समय से ही हम छत्रपति महाराज से प्रेरणा लेकर देश को आगे बढ़ाने का प्रयास करते रहे हैं. अब उनके परिवार के सदस्य के पार्टी में शामिल होने से हम आनंदित हैं.

इस अवसर पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि राजे के भाजपा के साथ जुड़ने से पार्टी की ताकत बढ़ेगी और इसका लाभ पार्टी और समाज दोनों को मिलेगा.

इससे पहले सतारा से सांसद उदयनराजे भोसले ने शनिवार को लोकसभा अध्य.क्ष ओम बिरला से मुलाकात की. इसके बाद उन्हों ने लोकसभा अध्यलक्ष को अपना इस्ती्फा सौंप दिया.

इसे भी पढ़ेंः#EconomySlowdown: ऑटो सेक्टर में मंदी का असर, महिंद्रा एंड महिंद्रा 17 दिनों तक ठप रखेगा उत्पादन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: