NationalTRENDING

#HindiDiwas साल 1949 में हिन्दी बनी राजभाषा, 1953 में मनाया गया पहला हिन्दी दिवस

विज्ञापन

New Delhi: बहुत सी बोलियों और भाषाओं वाले हमारे देश में आजादी के बाद भाषा को लेकर एक बड़ा सवाल आ खड़ा हुआ. आखिरकार 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया.

हालांकि शुरू में हिंदी और अंग्रेजी दोनो को नए राष्ट्र की भाषा चुना गया और संविधान सभा ने देवनागरी लिपि वाली हिंदी के साथ ही अंग्रेजी को भी आधिकारिक भाषा के रूप में स्वीकार किया, लेकिन 1949 में आज ही के दिन संविधान सभा ने हिंदी को ही भारत की राजभाषा घोषित किया.

इसे भी पढ़ेंःबड़बोले इमरान ने फिर उगला जहरः पाकिस्तानियों से कहा- अभी नहीं जब मैं कहूंगा तब LoC पर जाना

advt

हिंदी को देश की राजभाषा घोषित किए जाने के दिन ही हर साल हिंदी दिवस मनाने का भी फैसला किया गया. हालांकि पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया.

पीएम मोदी ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को हिन्दी दिवस के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी और कहा कि हिन्दी देश को एकता की डोर में बांधने का काम कर सकती है.

मोदी ने टि्वटर पर कहा, ‘‘हिंदी दिवस पर आप सभी को बहुत-बहुत बधाई. भाषा की सरलता, सहजता और शालीनता अभिव्यक्ति को सार्थकता प्रदान करती है. हिंदी ने इन पहलुओं को खूबसूरती से समाहित किया है.’’

इसे भी पढ़ेंः#EconomySlowdown: ऑटो सेक्टर में मंदी का असर, महिंद्रा एंड महिंद्रा 17 दिनों तक ठप रखेगा उत्पादन

शाह, नड्डा ने भी दी बधाई

भाजपा अध्यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को हिन्दी दिवस के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी और कहा कि हिन्दी देश को एकता की डोर में बांधने का काम कर सकती है.

अमित शाह ने ट्वीट किया, ‘आज हिंदी दिवस के अवसर पर मैं देश के सभी नागरिकों से अपील करता हूँ कि हम अपनी- अपनी मातृभाषा के प्रयोग को बढाएं और साथ में हिंदी भाषा का भी प्रयोग कर देश की एक भाषा के पूज्य बापू और लौह पुरूष सरदार पटेल के स्वप्न को साकार करने में योगदान दें.’


हिंदी दिवस पर शुभकामनाएं देते हुए उन्होंने कहा कि भारत विभिन्न भाषाओं का देश है और हर भाषा का अपना महत्व है, परन्तु पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है जो विश्व में भारत की पहचान बने.

शाह ने कहा कि आज देश को एकता की डोर में बाँधने का काम अगर कोई एक भाषा कर सकती है तो वो सर्वाधिक बोले जाने वाली हिंदी भाषा ही है.

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि हिंदी भारत में सर्वाधिक बोली एवं समझी जाने वाली भाषा है जो हम सभी भारतीयों को एकता के सूत्र में पिरोती है एवं विश्व में हमारी पहचान भी है.

उन्होंने कहा, ‘आप सभी को हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं. आइए हम सभी अपने दैनिक जीवन में हिंदी के प्रयोग को बढ़ाएं एवं दूसरों को भी प्रेरित करें.’

इसे भी पढ़ेंः#Newtrafficrules : भारी-भरकम जुर्माने से मिली राहत, CM का आदेश-विभाग तीन महीने जागरुकता फैलाये

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button