Top StoryWorld

बड़बोले इमरान ने फिर उगला जहरः पाकिस्तानियों से कहा- अभी नहीं जब मैं कहूंगा तब LoC पर जाना

विज्ञापन

Islamabad: इन दिनों पाकिस्तान के पास कश्मीर के अलावा कोई एजेंडा नहीं बचा है. इसलिए तो हर प्लेटफॉर्म से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कश्मीर का राग अलापते नजर आते हैं.

एकबार फिर इमरान खान ने भारत के खिलाफ जहर उगला, और पीओके में पाकिस्तानियों को एलओसी पर जाने के लिए उकसाया. साथ ही कहा कि अभी मत जाना जब मैं कहूंगा तब एलओसी पर जाना है.

दरअसल, पाक अधिकृत कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद में शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए खान ने कहा कि कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण हो गया है और यहां तक कि यूरोपीय संघ और ब्रिटिश संसद में इस मामले पर चर्चा हुई है. इस जनसभा का आयोजन कश्मीर के लोगों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए किया गया था.

advt

इसे भी पढ़ेंः#EconomySlowdown: ऑटो सेक्टर में मंदी का असर, महिंद्रा एंड महिंद्रा 17 दिनों तक ठप रखेगा उत्पादन

एलओसी पर जब मैं कहूं तब जाना

कश्मीर से अनुच्छे 370 हटाये जाने के बाद से पाकिस्तान पीएम की बौखलाहट लगातार सामने आ रही है. वहीं शुक्रवार को मुजफ्फराबाद में कश्मीर को लेकर इमरान खान ने फिर से पाकिस्तानी जनता को झूठ बताया है.

इमरान ने पीओके से पाकिस्तान के युवाओं को घुसपैठ के लिए उकसाते हुए कहा कि LoC पर अभी न जाना, मैं बताऊंगा कब जाना है.

यूएन आमसभा में कश्मीरियों को नहीं करूंगा निराश

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा कि वह अगले हफ्ते न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र आमसभा में कश्मीर का मसला उठाएंगे.
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि वह संयुक्त राष्ट्र आम सभा में कश्मीरियों को निराश नहीं करेंगे.

adv

उन्होंने भारत द्वारा जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने के बाद कश्मीरियों की बदहाली की बात प्रत्येक अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाने का संकल्प व्यक्त किया.

इसे भी पढ़ेंःबिहार: रघुवंश प्रसाद ने NDA का मुकाबला करने के लिए विपक्षी पार्टियों के विलय का दिया सुझाव

उन्होंने 27 सितंबर को प्रस्तावित संयुक्त राष्ट्र आम सभा में अपने संबोधन के बारे में कहा, “अगले सप्ताह मैं संयुक्त राष्ट्र आम सभा को संबोधित करने जा रहा हूं और मैं कश्मीर के लोगों को निराश नहीं करूंगा. मैं कश्मीरियों के अधिकारों के लिए उस तरह खड़ा होऊंगा, जैसा कि इससे पहले किसी ने नहीं किया होगा.”

खान ने भारत द्वारा धारा 370 खत्म करने के बाद अपनी दूसरी मुजफ्फराबाद यात्रा में कहा कि 50 साल में पहली बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में इस पर चर्चा होने के साथ ही कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण हो गया है.

इमरान की एक और गीदड़भभकी

पाक पीएम के बयान पर भारत ने कड़ी आपत्ति जतायी है. अनुच्छेद 370 की समाप्ति को अपना आंतरिक मामला बताते हुए भारत ने पाकिस्तान के “गैर-जिम्मेदाराना बयानों” पर कड़ी आपत्ति जतायी है.

खान ने कहा, “पहली बार यूरोपीय संघ ने कहा कि कश्मीर मुद्दे का समाधान संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव के अनुसार होना चाहिए. ओआइसी (इस्लामिक सहयोग संगठन) और 58 देशों ने कश्मीर में हो रहे उत्पीड़न पर पाकिस्तान का समर्थन किया और कहा कि कश्मीर में कर्फ्यू हटाना चाहिए.”

पाक प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के कदम से कश्मीर में चरमपंथ बढ़ेगा.उन्होंने चेतावनी दी कि पाकिस्तान भारत के किसी भी हमले का पूरा जवाब देगा. उन्होंने कहा, “अगर भारत ईट फेंकेगा, तो हम उसका जवाब पत्थर से देंगे.”

खान ने कहा, “मैं मोदी को एक संदेश देना चाहता हूं. अत्याचार के बावजूद आप कभी भी सफल नहीं होंगे क्योंकि कश्मीरियों को मौत का डर नहीं. इसलिए आप उनको हरा नहीं सकते, आप चाहें जो कर लें.”

खान ने यह भी कहा कि कश्मीर में जो हो रहा है, वह भारत के उदार लोगों के लिए भी खतरनाक होगा.

इसे भी पढ़ेंः#Newtrafficrules : भारी-भरकम जुर्माने से मिली राहत, CM का आदेश-विभाग तीन महीने जागरुकता फैलाये

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button