BiharLead News

बिहार मेडिकल के टॉप 10 में सफल होने वाले अधिकतर छात्र गोल इंस्टीट्यूट के

Patna : बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा बोर्ड (बी.सी.ई.सी.ई.बी.) द्वारा बिहार मेडिकल की मेधा सूची जारी की गई. जिसके आधार पर राज्य के मेडिकल, डेन्टल, आयुर्वेद एवं होमियोपैथिक कॉलेजों में नामांकन लिया जाएगा. बोर्ड द्वारा जारी की गई इस लिस्ट के टॉप टेन से ज्यादाजर छात्र गोल इन्स्टीट्यूट से है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : चाईबासा : महिलाओं को छेड़नेवाले शराबी पिता को बेटे ने पीटकर मारा, शव को जंगल में गाड़ा

MDLM

शाकिब ने जेनरल कैटेगरी में प्रथम स्थान पाया

गोल टैलेंट सर्च परीक्षा (जी.टी.एस.ई.) में लैपटॉप विनर शाकिब ने जेनरल कैटेगरी में प्रथम स्थान पाने के साथ बिहार का टॉपर बनकर संस्थान को गौरवान्वित किया. गोल संस्थान के प्रज्ञांस समैयार ने ई. डब्ल्यू.एस. कैटेगरी में प्रथम स्थान एवं जेनरल कैटेगरी में चौथा स्थान प्राप्त किया. वहीं गोल के अमन हर्ष जेनरल कैटेगरी में बिहार के टॉप थ्री में आने का गौरव हासिल किया है..

गोल के अन्य टॉप टेन में प्रिंस प्रियदर्शी का जेनरल ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 2 एवं जेनरल रैंक 5, सत्यम कुमार, ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 3 एवं जेनरल रैंक 8, अभिलाषा झा जेनरल ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 4, स्वेता कुमारी बी.सी. रैंक 4 एवं आर.सी.जी. रैंक 3, रवि राज, जेनरल ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 5, रिशभ, जेनरल ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 6, कुमार सानु, जेनरल ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 8 एवं रितेश सिंह ने जेनरल ई.डब्ल्यू.एस. रैंक 9 हासिल कर संस्थान को गौरवान्वित किया.

इसे भी पढ़ें : सुपौल में बीडीओ आशा कुमारी और रिटायर नाजिर के बीच हाथापाई , कार्यालय में आधे घंटे तक हंगामा

विषम परिस्थितियों में भी बेहतर प्रदर्शन

सभी सफल छात्रों को उनके सफलता पर बधाई देते हुए गोल इन्स्टीट्यूट के फाउण्डर एवं मैनेजिंग डायरेक्टर विपीन सिंह ने टॉप टेन में गोल संस्थान के ज्यादातर छात्रों के आने पर प्रसन्नता व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि विषम परिस्थितियों में भी गोल के छात्रों ने टॉप टेन में स्थान सुनिश्चित कर यह सिद्ध कर दिया है कि अगर हौसले बुलन्द हो तो विपरीत परिस्थिति में भी बड़ी जीत हासिल कर टॉपर और रैंकर बना जा सकता है.

श्री सिंह ने इस बड़ी सफलता का श्रेय छात्रों के जीतोड़ मेहनत अभिभावकों के विश्वास एवं गोल के पूरे टीम का संयुक्त प्रयास को देते हुए कहा कि गोल संस्थान छात्रों को सही दिशा निर्देश के साथ आने वाले वर्षों में भी इसी तरह प्रोत्साहित कर सफलता के शिखर पर पहुँचाने कि कोशिश करते रहेगा.

इसे भी पढ़ें : “हाथ” को छोड़कर “कमल” का दामन थामेंगे झारखंड कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह !

पिछले वर्षों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन

गोल संस्थान के असिस्टेंट डायरेक्टर रंजय सिंह ने कहा कि इस वर्ष गोल के छात्रों पिछले वर्षों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किए हैं और उम्मीद करता हूँ कि हमारे छात्र आने वाले वर्षों में और भी बेहतर प्रदर्शन करेंगे. श्री सिंह ने कहा कि हमारी टीम लगातार छात्रों को काउन्सेलिंग से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी, दिशानिर्देश एवं टेक्नीकल सपोर्ट प्रदान कर रही है ताकि छात्रों को उनके प्राप्त रैंक के अनुसार सर्वश्रेष्ठ मेडिकल कॉलेज अलॉट हो सके.
रंजय सिंह ने कहा कि लॉकडाउन में भी गोल के द्वारा ऑनलाईन के माध्यम से छात्रों को जो बेहतर क्लास, टेस्ट एवं डाउट्स मिला और लॉकडाउन के बाद ऑफलाईन में जो सुविधा मिली, उसका इस बड़ी सफलता में बड़ा रोल है.

गोल इन्स्टीट्यूट के आनन्द वत्स ने कहा कि हमारे संस्थान में नए सत्र के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. अगले सत्र के लिए इच्छुक विद्यार्थी ऑनलाईन या ऑफलाइन माध्यम से मेडिकल एवं इंजिनियरिंग की तैयारी के लिए गोल इन्स्टीट्यूट के ऑफिस में जाकर या संस्थान के वेबसाईट से जानकारी लेकर नामांकन करा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : रिम्स की उपलब्धि: ढाई किलो की बच्ची की सफल हार्ट सर्जरी, दिल में था सुराग

Related Articles

Back to top button