न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खान विभाग को लक्ष्य से 1115.82 करोड़ कम मिली रॉयल्टी, लक्ष्य पूरा करने में 23 जिले पीछे

खान विभाग ने 6431.50 करोड़ रखा था रॉयल्टी का लक्ष्य, 29 मार्च तक मिला 5315.67 करोड़

53

Ranchi : इस वित्तीय वर्ष 2018-19 में खान विभाग को निर्धारित लक्ष्य से कम रॉयल्टी मिली है. खान विभाग ने 6431.50 करोड़ रॉयल्टी का लक्ष्य रखा था. 28 मार्च तक 5315.67 करोड़ ही रॉयल्टी मिल पाई है. इस हिसाब से खान विभाग को निर्धारित लक्ष्य से 1115.82 करोड़ कम रॉयल्टी मिली है.

23 जिलों को रॉयल्टी हासिल करने के लिये जो लक्ष्य दिया गया था, इनमें से किसी भी जिले ने 28 मार्च तक निर्धारित लक्ष्य को हासिल नहीं किया. सिर्फ गिरिडीह ने ही निर्धारित लक्ष्य से 30.35 लाख रुपये अधिक की रॉयल्टी हासिल की है. गिरिडीह को 16 करोड़ रुपये का लक्ष्य मिला था, इसके एवज में 16.30 करोड़ की रॉयल्टी हासिल की गयी है.

इसे भी पढ़ें – चुनाव 2019- राज्य की एजेंसियों ने 25 मार्च तक जब्त किये 22 लाख कैश व 29 हजार लीटर शराब

hosp3

सिर्फ एक वित्तीय वर्ष में ही लक्ष्य से अधिक रॉयल्टी मिली

वित्तीय वर्ष 2012-13 में ही निर्धारित लक्ष्य से अधिक रॉयल्टी मिली. इस वित्तीय वर्ष में 2950 करोड़ का टारगेट था, इसके एवज में 3124.52 करोड़ रुपये की रॉयल्टी प्राप्त हुई. वित्तीय वर्ष 2011-12 में 2600 रॉयल्टी हासिल करने का लक्ष्य था, इसके एवज में 2580.84 करोड़ रॉयल्टी प्राप्त हुई. वित्तीय वर्ष 2013-14 में 3500 करोड़ लक्ष्य के विरुद्ध 3199.60 करोड़ की रॉयल्टी प्राप्त हुई. 2014-15 में 3500 करोड़ के विरुद्ध 3449.83 करोड़, 2015-16 में 5500 के विरुद्ध 4770.59 करोड़ रुपये ही रॉयल्टी मिली. 2016-17 में 7050.88 करोड़ के विरुद्ध 4120.05 करोड़ की रॉयल्टी प्राप्त हुई.

1184 लीज धारकों के खदानों में हो रहा है खनन का काम

प्रदेश के छोटे-बड़े खदानों के 1184 खदानों में ही खनन का काम हो रहा है. कुल 3901 लीज धारकों में से 2717 लीज धारकों के आवंटित खदानों से खनन का काम बंद है. 25 लीज धारकों के खदानों की लीज भी रद्द कर दी गयी है. इसमें पाकुड़ में 10, खूंटी में दो और चाईबासा में 13 खदान शामिल हैं जिनकी लीज रद्द कर दी गयी है. बोकारो, धनबाद और गिरिडीह में 340 खदानों में खनन का काम बंद है. देवघर, दुमका, गोड्डा, जामताड़ा, पाकुड़ और साहेबगंज में 759 खदानों में खनन का काम बंद है. वहीं कोल्हान के अंतर्गत चाईबासा, जमशेदपुर और सरायकेला में 304 खदानें बंद हैं. पलामू प्रमंडल में गढ़वा, लातेहार और पलामू में 63 खदानें बंद हो गई हैं. गुमला, खूंटी, लोहरदगा, रांची और सिमडेगा में 492 खदानों में खनन का काम बंद है

इसे भी पढ़ें – गिरिडीह के ओपेन कास्ट खदान की सुरक्षा के लिए जिस ग्राम पहरी का किया गया गठन, वही कर रहा है अब कोयले…

किस जिले में कितने का लक्ष्य और कितनी कम मिली है रॉयल्टी

जिला                       लक्ष्य(लाख में)                      28 मार्च तक वसूली                कितना कम(राशि लाख में)
धनबाद                       155000                             125639.90                            29360.1
बोकारो                       35000                               33426.10                              1573.9
हजारीबाग                   25000                               22506.85                               2493.15
रामगढ़                       70000                               64332.34                               5667.66
चतरा                         60000                               49660.86                               10339.14
कोडरमा                     1500                                 1060.76                                 439.24
पलामू                        35000                               27663.75                               7336.25
लातेहार                     6000                                  5491.76                                 580.24
गढ़वा                        2000                                 1780.29                                  219.71
रांची                         10000                               8332.74                                  1667.26
खूंटी                         3500                                 2264.54                                  1235.46
लोहरदगा                   2800                                2063.61                                   736.39
गुमला                       6500                                5886.70                                   613.3
सिमडेगा                    2000                                1704.80                                   295.2
जमशेदपुर                  10000                               8041.98                                  1958.02
चाईबासा                    150000                            115897.76                              34102.24
सरायकेला                  3000                                 2003.57                                  996.43
जामताड़ा                   750                                   586.70                                    163.3
दुमका                      4500                                 3264.50                                   1235.5
गोड्डा                        35000                               29145.25                                 5854.75
पाकुड़                      6000                                 5505.45                                   494.55
साहेबगंज                  8000                                6343.95                                    1656.05
देवघर                      10000                              7333.22                                    2666.78

क्या कहते हैं खान सचिव

खान सचिव अबुबकर सिद्दिख पी के अनुसार 6431.50 करोड़ रॉयल्टी का लक्ष्य रखा गया था. 28 मार्च तक 5315.67 करोड़ ही रॉयल्टी मिल पाई है. उम्मीद है कि 31 मार्च तक इसमें और बढ़ोत्तरी होगी. उम्मीद है कि लक्ष्य तक पहुंचा जा सकेगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: