न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चुनाव 2019- राज्य की एजेंसियों ने 25 मार्च तक जब्त किये 22 लाख कैश व 29 हजार लीटर शराब

चुनाव के दौरान देशभर में जब्त हुए 143.47 करोड़ नगद

106

Ranchi : लोकसभा चुनाव की तारिख घोषित होने के बाद निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए अपनाये गए तरीके का ब्योरा जारी किया है. इसमें कहा गया है कि झारखंड में 25 मार्च 2019 तक विभिन्न एजेंसियों द्वारा मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए 22 लाख रुपये नगद जब्त किये गए. इस दौरान झारखंड में 29 हजार लीटर शराब और 659.7 किलोग्राम नशीली दवाईयां, ड्रग्स भी जब्त किए गए.

mi banner add

इसे भी पढ़ेंः‘मिशन शक्ति’ पर कांग्रेस से जेटली का सवालः सरकार में रहते क्यों नहीं दी थी इजाजत

क्या-क्या सामान हुए जब्त

राज्य से नगदी समेत कुल 30 लाख की अन्य सामग्रियां जब्त की गयी. आयोग के अवर सचिव पवन दीवान के द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि देशभर में प्रोग्रेसिव सीजर के तहत विभिन्न एजेंसियों ने 143.47 करोड़ रुपये नगद जब्त किए हैं. इसमें 89.64 करोड़ रुपये की शराब भी चुनाव और मतदान तक जब्त किए गए हैं. इतना ही नहीं ड्रग्स और नारकोटिक्स की श्रेणी में 131.75 करोड़ रुपये और 162.93 करोड़ के सोने के आभूषण जब्त किये गये. अन्य उपहार और वस्तुओं में 12.202 करोड़ के सामान शामिल हैं जिसे जब्त किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःराहुल के आरोपों पर ममता का पलटवार, कहा- अभी वह बच्चे हैं

Related Posts

बेरमो : खेतको में दामोदर नदी के घाट से बालू का अवैध उठाव जारी

प्रतिदिन पचासो की संख्या में टैक्टरों से बालू का उठाव किया जा रहा है.

आयोग ने सभी राज्यों के निर्वाचन पदाधिकारियों को लिखा पत्र

निष्पक्ष और भयमुक्त वातावरण में चुनाव कराने को लेकर आयोग ने सभी राज्यों के राज्य निर्वाचन पदाधिकारियों को पत्र लिखा है. इसमें कहा गया है कि राज्य निर्वाचन पदाधिकारी आयकर और अन्य इनफोर्समेंट एजेंसियों से तालमेल कर नगद रुपये बांटने, शराब का वितरण, नशीली पदार्थों को बांटने की दिशा में ठोस कदम उठाएं. तमिलनाडू, कर्नाटक, पंजाब, उत्तरप्रदेश में यह गतिविधियां चुनाव के दौरान अधिक पायी गयी हैं.

राजधानी रांची में भी आयकर विभाग ने बनाया सेल

राजधानी रांची में आयकर विभाग ने चुनाव के दौरान नगद और अन्य उपहार देनेवाले उम्मीदवारों की सूचना देने के लिए सेल गठित किया है. इसमें कहा गया है कि सूचना देनेवालों के नाम गुप्त रखे जायेंगे. इसके अलावा एक टॉल फ्री नंबर भी जारी करने की बातें कही गयी हैं. राज्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय की तरफ से रेलवे स्टेशनों, एयरपोर्ट पर संदिग्ध यात्रियों पर नजर रखने और सभी यात्रियों और उनके सामानों की जांच करने का आदेश भी जारी किया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: