न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Lockdown21: प्रशासन की सख्ती के बाद भी रोजाना बाजार में उमड़ रही भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा जा रहा ख्याल

लॉकडाउन उल्लंघन के 57 मामले हुए दर्ज

960

Ranchi: कोरोना वायरस से जारी जंग के बीच लोगों की लापरवाही सामने आ रही है. लॉकडाउन दूसरे दिन के राजधानी रांची में लोग अपनी जरूरत के सामानों की खरीददारी के लिए बाहर निकले.

इस दौरान गैस सिलेंडर लेने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. लोग गैस एजेंसी के सामने कतार में खड़े हो गए. किसी को कोरोना वायरस का जैसे कोई डर नहीं है. और न लोग सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रख रहे हैं. गैस एजेंसी भी गैस बांटने में विधि व्यवस्था बनाने में विफल नजर आ रही है.

इसे भी पढ़ेंः#StopTheSpreadOfCorona: सरकार ने जारी किये कोरोना कंट्रोल रूम के जिलावार नंबर, संदिग्धों की दे सकेंगे जानकारी

सुबह-सुबह सड़क पर निकले लोग

गुरुवार की सुबह-सुबह राजधानी रांची की सड़कों पर लोग निकल आए. जिसपर पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए लोगों को तत्काल अपने घर वापस लौटने की अपील की.

वहीं दूध, सब्जी, राशन जैसी जरूरी चीजों के लिए भी कई लोग अपने घरों से बाहर निकले. इस वजह से कई जगहों पर भीड़ लग गयी. जिसके बाद पुलिस के जवान मौके पर पहुंचकर लोगों का समझाते हुए नजर आए और घर जाने की अपील की.

Whmart 3/3 – 2/4

पुलिस ने बढ़ाई अपनी सक्रियता

लॉक डाउन के दूसरे दिन पुलिस ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है. वहीं लोगों के बेवजह सड़क पर निकलने से रोकने के लिए अलग-अलग हत्थकंडे अपना रही है.

पुलिस ने लोगों के बेवजह घर से बाहर निकलने पर उन्हें रोककर उनके पीछे पोस्टर लगा रही है. पोस्टर में लिखा है ‘मैं समाज का दुश्मन हूं, मैं घर पर नहीं रहूंगा.’ साथ ही घर से नहीं निकलने की अपील भी की जा रही है.  पुलिस सख्ती के साथ भी लोगों से निपट रही है. बता दें कि दवाई दुकान, बैंक और खाद्य सामग्री की दुकानें खुली हैं. लेकिन अन्य दुकानें पूरी तरह से बंद है.

इसे भी पढ़ेंः#CoronaVirus से अमेरिका में 1000 से अधिक लोगों की मौत, 65,000 के पार मामले

सोशल डिस्टेंसिंग सर्किल

कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू भारत लॉकडाउन के अनुपालन कराने के साथ ही रांची पुलिस ने सोशल डिस्टेंसिंग के लिए एक पहल की है. एसएसपी अनीश गुप्ता के निर्देश पर शहर की ज्यादा भीड़भाड़ वाली दवाई और राशन दुकानों के बाहर खरीददारों के लिए एक-एक मीटर की दूरी पर घेरा बनवाया गया है.

सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाये गये सर्किल

उसी घेरे में लोगों को कतारबद्ध खड़े होकर दवाइयां और अन्य जरूरी सामान खरीदने का निर्देश दिया गया है. दुकानों के बाहर सफेद चूना से एक-एक मीटर की दूरी पर गोल घेरा बनाया गया है. यह हर स्थानीय पुलिस द्वारा हर दुकानों से सुनिश्चित करवाया जा रहा है.

रांची के मेन रोड, सर्कुलर रोड, हरमू रोड, रातू रोड सहित कई दुकानों में इसे शुरू किया गया है. सभी दवाई और राशन दुकानों को ऐसा घेरा बनवाने का निर्देश दिया गया है.

लॉकडाउन उल्लंघन के 57 मामले दर्ज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन घोषित किया है.लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए भी राज्यभर के मुख्यमंत्री को बोला गया है. इसके बाद भी लॉक डाउन का उल्लंघन करने के मामले में झारखंड में अब तक कुल 57 मामले दर्ज किए गए हैं.

जो कि धारा 144 के तहत मामले राज्य भर के विभिन्न थानों में दर्ज हुए हैं. हालांकि, इसके बावजूद राज्यभर में कई जगह पर देखा गया है, कि आम जनता लॉकडाउन मानने को तैयार नहीं है. ऐसी परिस्थिति में पुलिस उन लोगों के साथ सख्ती से पेश आ रही है. कई जगहों पर गाड़ियों को भी जब्त किया जा रहा है.

न्यूज विंग की अपील

देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम है खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

इसे भी पढ़ेंः#CoronaVirus राहत कोष में BJP विधायक एक माह का वेतन व मंत्री 1-1 लाख रुपये करेंगे जमा

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like