JharkhandRanchi

जेएमएम ने कहा- रघुवर दास में भ्रष्टाचार था हावी; बीजेपी का पलटवार-दिल्ली दरबार में चढ़ायी जा रही जनता की कमाई

Ranchi : डीवीसी बकाया को लेकर बीते दिनों राज्य के खजाने में की गयी 714 करोड़ की कटौती पर सत्तारूढ झारखंड मुक्ति मोर्चा ने केंद्र पर बड़ा हमला बोला है.

पार्टी प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा है कि डीवीसी प्रबंधन को देखना चाहिए कि इतने करोड़ रुपये बकाया राशि का जिम्मेवार कौन है. एकबार फिर केंद्र सरकार राज्य के खजाने से राशि काटने की बात कर रही है.

जबकि यह सभी जानते हैं कि पूर्व की सरकार में भ्रष्टाचार किस तरह से हावी था. दरअसल राज्य में बिजली घोटाला रघुवर की सरकार की देन है. जेएमएम के इन आरोपों पर विपक्षी भाजपा ने भी कड़ा जबाव दिया है.

इसे भी पढ़ें- झारखंड के 10 हजार शिक्षकों का वेतन रोकने का फरमान

पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेस कर सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि हेमंत सरकार टकराव की राजनीति में नही जाना चाहती हैं. लेकिन डीवीसी प्रबंधक को देखना चाहिए कि वास्तविकता क्या है.

कोरोना संक्रमण के दौरान की स्थिति को लेकर सुप्रियो ने कहा कि कोरोना की जंग में केंद्र सरकार ने सकारात्मक सहयोग नही किया. उसके बाद किसानों को खत्म करने का काम हुआ. अब केंद्र सरकार सरकारी कारखाने (गेल, भेल, सेल) को बेचने का कार्य कर रही है.

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने जेएमएम नेता के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि झारखंड की जनता की गाढ़ी कमाई को लूट कर दिल्ली दरबार में चढ़ावा चढ़ाया जा रहा है. दूसरी ओर राज्य सरकार हर बात पर खजाना खाली होने के घड़ियाली आंसू बहा रही है.

प्रतुल ने कहा कि हेमन्त सरकार बार-बार दावा करती है कि कोयला मंत्रालय में राज्य सरकार का हजारों करोड़ों बाकी है. अगर ऐसा सचमुच है तो जब शिबू सोरेन केंद्रीय कोयला मंत्री थे तो उस समय इस पैसे की वसूली क्यों नहीं की गयी.

प्रतुल ने कहा कि दरअसल रोजगार, कृषि लोन,बेरोजगारी भत्ता, विधि व्यवस्था ,महिला सुरक्षा, हर मुद्दे पर असफल रही हेमंत सरकार इसी तरह का बयान बाजी करके लोगों का ध्यान भटकाना चाहती है.

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह : घरेलू विवाद में हुई थी ममता की हत्या, पति समेत सात आरोपी गिरफ्तार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: