Khas-KhabarRanchi

टाइम्स स्कवायर का पहला ही चरण लटका, सीएम के मौखिक आदेश के बाद ज्यूडको कर रहा लिखित आर्डर का इंतजार

Deepak
Ranchi: राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में बन रहे टाइम्स स्कवायर के पहले ही चरण का काम लटक गया है. रांची की हाइ-10 कंपनी इसका निर्माण करा रही है. वहां लगायी गयी बड़ी एलईडी स्क्रीन को शिफ्ट करने का काम भी रुक गया है. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने निरीक्षण के क्रम में नौ बड़ी स्क्रीनों को शिफ्ट करने का निर्देश दिया था. अब नगर विकास विभाग की एजेंसी झारखंड अरबन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (ज्यूडको) विभाग के लिखित आदेश का इंतजार कर रहा है.

इसे भी पढ़ें- आजादी के 70 साल के बाद हमने चुकाया भगवान बिरसा का ऋण : रघुवर दास

दूसरे चरण का प्रस्ताव नहीं है तैयार

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS

ज्यूडको के निदेशक एसके साहू के अनुसार दूसरे चरण का प्रस्ताव उपमहाप्रबंधक ने तैयार नहीं किया है. पहले चरण में जॉगिंग ट्रैक और फुटपाथ बनना था, पर वह भी अब स्पष्ट नहीं है. परामर्शी कंपनी मैनहर्ट ने बगैर भौतिक निरीक्षण के कई चीजें बनाने का सुझाव दे दिया जिसे लागू करने में दिक्कतें आ रही हैं. मसलन वहां इतने पेड़ लगे हैं जिन्हें काटने की अनुमति नहीं मिल पायी है. सिर्फ डालियों को काटने की अनुमति मिली है. इस कारण मार्केटिंग जोन और फूड कोर्ट का निर्माण संभव नहीं हो पा रहा है.

The Royal’s
MDLM
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें- उज्जवला योजना से मीलों दूर हैं आंगनबाड़ी केंद्र, चूल्हा फूंक तैयार हो रहा नौनिहालों का खाना

क्या थी योजना

मुख्यमंत्री रघुवर दास जब न्यूयार्क से लौटे तो उन्होंने राजधानी के मोरहाबादी मौदान को टाइम्स स्कवायर के तर्ज पर विकसित करने का निर्देश दिया था. इस योजना को मूर्त रूप देने के लिए मैनहर्ट सिंगापुर प्राइवेट लिमिटेड को परामर्शी बनाया गया था. नगर विकास और आवास विभाग की तरफ से 24.98 करोड़ की योजना स्वीकृत की गयी थी. परामर्शी कंपनी ने मैदान में बड़ी एलइडी टीवी के साथ-साथ जॉगिंग और वाकिंग ट्रैक, फूड कोर्ट, सिटिंग एरेंजमेंट, लाइटिंग, सिक्यूरिटी जोन, कैफेटेरिया, इंटरटेनमेंट जोन बनाने की सलाह दी थी. सरकार से कहा गया था कि दो सौ दुकानें, जो तीन तरफ से खुली हों, वह यहां बनें. इतना ही नहीं 50 मूवेबल फूड वैन शाम को पांच बजे से रात दस-11 बजे तक लगवाने का सुझाव भी दिया गया था.

इसे भी पढ़ें- सफाई व्यवस्था संभाल रही एस्सेल इंफ्रा से नगर विकास मंत्री की चलती है कमीशनखोरी :  सुबोधकांत सहाय

दस फीसदी जगह पर्यटन विभाग को देने की थी सिफारिश

यहां पर 10 फीसदी ओपेन स्पेश के रूप में सरकार के पर्यटन विभाग को देने की सिफारिश की गयी थी, जहां पर स्थानीय कलाकार आयें और अपनी कला का प्रदर्शन कर सकें. स्थानीय संस्कृति को बढ़ावा दिया जाना इसका उद्देश्य था.

बड़ी घड़ी लगाने का भी दिया था सुझाव

टाइम्स स्कवायर में एक बड़ी घड़ी भी स्थापित करने का सुझाव दिया गया था. इसका उद्देश्य शाम को मोरहाबादी आनेवाले परिवारों को आकर्षित करना था, जो तीन-चार घंटे यहां व्यतीत करें और बड़ी टीवी स्क्रीन पर म्युजिक, समाचार, इंटरटेनमेंट, लाइव मैच और अन्य कार्यक्रमों आनंद लेते हुए फूड कोर्ड के लजीज व्यंजनों का भी लुत्फ उठा सकें.

Related Articles

Back to top button