न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आजादी के 70 साल के बाद हमने चुकाया भगवान बिरसा का ऋण : रघुवर दास

नीलकंड सिंह मुंडा ने डोम्बारी बुरु को विकसित करने की मांग की, सीएम ने जताई सहमति

109

Ranchi : बिरसा मुंडा कारागार के जीर्णोद्धार, संरक्षण एवं संग्रहालय का शिलान्यास गुरुवार को पुराना बिरसा मुंडा जेल परिसर में रघुवर दास एवं राज्यपाल द्रोपदी ने किया. रघुवर दास ने कहा कि आज जाकर हमने 70 सालों के बाद भगवान बिरसा का ऋण चुकाया है. जिसे हमे कई सालों पहले ही चुका देना चाहिए था. 27 करोड़ की लागत से पुराना जेल परिसर का जीर्णोद्धार किया जा रहा है. नगर विकास विभाग एंव कल्याण विभाग के दवारा इसका निर्माण किया जाना है. जीर्णोद्धार कार्य के लिए केंद्र सरकार ने 25 करोड़ रुपये राज्य को दिये हैं. वहीं इसके लिए कुल 27 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे. मुख्यमंत्री ने बताया कि इसे एक साल के अंदर काम को पूरा कर दिया जाएगा. ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने कार्यक्रम के दौरान ही खूंटी के डोम्बारी बुरु को विकसित करने की मांग की. जिसपर केंद्र सरकार के राज्य मंत्री जुऐल उरांव एवं मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सहमति जताते हुए कहा कि पर्यटन विकास विभाग के द्वारा इसे विकसित किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें- श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय में शिक्षक के समर्थन में स्टूडेंट्स ने किया प्रदर्शन

अंग्रेजों के पाले हुए लोग हमारी संस्कृति को नष्ट कर रहे हैं : सीएम

सीएम रघुवर दास ने कहा कि कुछ अंग्रेजों के पाले हुए लोग संस्कृति को नष्ट करने का काम कर रहे हैं. हम झारखंड वासियों को को उन्हें यह बताना होगा कि यहां अंग्रेजियत की नहीं चलेगी. हमारी सरकार भगवान बिरसा मुंडा एवं अन्य शहीदों के सपनों का झारखंड बनाएंगे, इस दिशा में काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार का प्रयास है कि हमलोग ट्राइबल के मान सम्मान को बढ़ाएं इसे लेकर भी हम कृतसंकल्पित हैं.

इसे भी पढ़ें- काम से निकाला तो दी बच्‍चे की किडनैपिंग की धमकी और मांगी 1 करोड़ की रंगदारी

palamu_12

120 फीट की भगवान बिरसा की आदमकद प्रतिमा लगेगी

आदमकद प्रतिमा बनाने के लिए नवंबर महीने में झारखंड के हर एक शहीदों के गांव से जल सहिया के द्वारा मिट्टी लाकर उन्हें सम्मान देने का काम करेगी सरकार. वहीं टाना भगतों के योगदान को पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा. झारखंड का पर्व कर्मा और सरहुल पर्व पर डाक टिकट जारी किया गया है. पार्क में फ्रीडम वॉक का भी निर्माण किया जाएगा, जहां लोग झारखंड के शहीदों के बारे में जान पाएंगे. पार्क में सभी शहीद सैनिकों के बारे में बताया जाएगा. वहीं सियाचिन में हमारे सैनिक कैसे रहते हैं उसे भी लोग यहां एहसास कर पाएंगे. 150 मीटर का बिरसा मुंडा टावर का निर्माण किया जाएगा. जहां से पूरे रांची को देख सकेंगे.  यहां अत्याधिक लाईट एवं साउंड सिस्‍टम का निर्माण किया जाएगा. वहीं केंद्र सरकार 1000 करोड़ खर्च कर सभी शहीदों के उपर डाक्यूमेंट्री का निर्माण कराएगी.  इसके लिए सभी शहीदों के बारे में शोधकर जानकारी जुटाएंगे. शोध कार्य के जरीए हम पूरे देश के शहीदों के बारे में जान पायेंगे और लोगों को बता पाएंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: