Jamshedpur

फिल्म निर्माण सिर्फ मनोरंजन का साधन नहीं बल्कि भारतीय संस्कृति का वाहक है : डॉ करूणेश

advt

Jamshedpur : शहर के तुलसी भवन में चित्रपट झारखंड की ओर से फिल्म निर्माण पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया. इसका उद्घाटन एनआईटी के निदेशक डॉ. करुणेश शुक्ला ने किया. कार्यशाला में कुल 22 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया. चित्रपट झारखंड के संयोजक एनके सिंह ने प्रतिभागियों को फिल्म निर्माण और  लेखन के बारे में जानकारी दी. फिल्म निर्माण पर किस तरह से काम करना है इसके बारे में फिल्मों को दिखाकर जानकारी देने का काम किया गया.

डॉ करूणेश शुक्ला ने कहा कि सिनेमा सिर्फ मनोरंजन का साधन ही नहीं है, बल्कि भारतीय संस्कृति का भी वाहक है. बदलते समय में भी उसी नजर से काम किया जाना चाहिए. कार्यशाला में निर्देशक डॉ. सुशील अंकन ने कहा कि प्रत्येक सालों में राष्ट्रीय स्तर पर चित्र भारती राष्ट्रीय लघु फिल्मोत्सव का आयोजन करती है. इसमें फिल्म समीक्षा, फिल्म प्रदर्शन, विमर्श, प्रशिक्षण और लघु फिल्म फेस्टिवल करती है.

advt

कार्यशाला में ये थे मौजूद

कार्यशाला में चित्रपट झारखंड के संयोजन नंद कुमार, डॉ सुशील कुमार अंकन, अरका जैन यूनिवर्सिटी के प्रो. श्याम कुमार, अनिमेष कुमार के अलावा अन्य लोग भी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- पति-पत्नी का विवाद सुलझाने गए एएसआई के साथ मारपीट

advt

 

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: