JharkhandRanchi

जांच के समय ड्राइविंग लाइसेंस और अन्य दस्तावेज की दिखानी होगी सॉफ्ट कॉपी

सभी राज्यों के डीजीपी, परिवहन सचिव और परिवहन आयुक्त को भेजा पत्र

Ranchi : केंद्र सरकार के नये निर्देश के बाद अब जांच के समय किसी भी वाहन चालक को ड्राइविंग लाइसेंस, फिटनेस सर्टिफिकेट और दस्तावेज का डिजीटल फार्म (सॉफ्टकॉपी) उपलब्ध कराना होगा. केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इस संबंध में सभी राज्यों के पुलिस महानिदेशक, परिवहन सचिव, परिवहन आयुक्त को पत्र लिख कर नये आदेश को लागू करने का आदेश दिया है.

हार्ड कॉपी की ही मांग की जाती थी

19 नवंबर 2018 केंद्रीय परिवहन मंत्रालय के अवर सचिव डीआर लाइकुंग के हस्ताक्षर से जारी आदेश पत्र में कहा गया है कि केंद्रीय मोटर वाहन नियमावली 1989 में सरकार ने संसोधन किया है. अब किसी भी वाहन की जांच के क्रम में जांच अधिकारी, संबंधित यातायात पुलिसकर्मी को सभी दस्तावेज दिखाने पड़ेंगे. वाहन चालक अथवा वाहन मालिक को गाड़ी का निबंधन, इंश्योरेंस, फिटनेस, परमिट, ड्राइविंग लाइसेंस और पोल्यूशन सर्टिफिकेट की सॉफ्ट कापी जांच अधिकारी को दिखलाना होगा. मांगे जाने पर पुलिस अधिकारी को सभी दस्तावेजों की हार्ड कापी भी उपलब्ध कराना अनिवार्य किया गया है. अब तक सभी जगहों पर यातायात पुलिस तथा अन्य पुलिसकर्मियों या दंडाधिकारियों की तरफ से उपरोक्त दस्तावेज के हार्ड कापी की ही मांग की जाती थी.

क्यों किया गया यह फेरबदल

केंद्र सरकार का मानना है कि इस विधि से डिजीटल प्लैटफार्म को बढ़ावा मिलेगा. नागरिक सुविधा के तहत दस्तावेजों की जांच भी सुगम होगी. सभी राज्यों के संबंधित अधिकारियों से कहा गया है कि वे केंद्रीय मोटर वाहन नियमावली में हुए संसोधन को लागू करते हुए उसका अनुपालन सुनिश्चित करें.

इसे भी पढ़ें- विधायक ढुल्लू ने अपनी ही पार्टी के सांसद को कहा ‘उसका कैरेक्टर ढीला’, कमल संदेश के संपादक को कहा…

इसे भी पढ़ें- धनबाद भाजपाः एक दूसरे की पोल खोलने में लगे नेता

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close