न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राज्य का विकास रघुवर दास के रूप में बिजली के खंभों पर टंगा हुआ मिलेगा : हेमंत

गढ़वा के बाद पलामू पहुंची झामुमो की चुनावी संघर्ष यात्रा

1,927

Palamu: गढ़वा के बाद मंगलवार से पलामू जिले में झारखंड मुक्ति मोर्चा की चुनावी संघर्ष यात्रा की शुरुआत हुई. जिले के हैदरनगर में बस स्टैंड मोड़ पर सभा का आयोजन किया गया. सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री और झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि जुमलेबाज प्रधानमंत्री व अप्रवासी मुख्यमंत्री ने शहीदों की धरती चेमा सान्या को मंडल डैम से डूबाने का षड़यंत्र रचा है. मंडल डैम का पानी इस इलाके में प्रलय लायेगा और बिहार को फायदा पहुंचेगा. सदियों से सूखे पलामू से पानी बिहार ले जाने का काम किया जा रहा है. पलामू को सिंचाई तो दूर पीने तक का पानी भी नसीब नहीं होगा. श्री सोरेन ने कहा कि राज्य गठन के बाद से 16-17 वर्ष से राज्य विरोधी भाजपा का शाषण रहा है. भाजपा ने राज्य के लोगों को आपस में लड़ाने का काम किया है. उन्होंने आगामी चुनाव में राज्य में झामुमो की पूर्ण बहुमत सरकार बनाने की अपील की.

प्राथमिकता के आधार पर होगा पारा शिक्षकों की समस्या का समाधान

hosp1

हेमंत सोरेन ने कहा कि यदि उनकी सरकार बनती है तो प्राथमिकता के आधार पर पारा शिक्षकों की समस्या का निदान किया जायेगा. यहां के युवा को रोजगार के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा. स्थानीय स्तर पर रोजगार मिलेगा. श्री सोरेन ने कहा कि अभी वे वनवास काट रहे हैं. झारखंड की रघुवर सरकार दुर्भावना से ग्रसित है. झारखंड का विकास रघुवर दास के रूप में बिजली के खंभों पर टंगा हुआ मिलेगा. स्वास्थ्य मंत्री अपनी तिजोरी भरने में लगे हैं. जबकि भाजपा ने राजनीतिक हित साधने के लिए राज्य को आग में झोंक दिया है.

चार साल में 900 करोड़ सिर्फ प्रचार-प्रसार में खर्च किये

हेमंत सोरेन ने आरोप लगाया कि पिछले 4 सालों में सरकार ने साढे तीन सौ करोड़ रुपए प्रचार-प्रसार में खर्च कर अपना चेहरा चमकाया है. झारखंड सरकार रोजगार की भीख मांगने दुबई जा रही है. इस मौके पर मुख्य रूप से वरिष्ठ नेता मिथिलेश ठाकुर, अभिषेक सिन्हा, एजाज हुसैन उर्फ छेदी, रामप्रवेश सिंह, बशिष्ठ कुमार सिंह, अशोक सिंह, अशरफ हसन, योंगेंद्र सिंह, बिहारी सिंह सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे.

पारा शिक्षकों ने सौंपा ज्ञापन

स्थायीकरण सहित अन्य मांगों को लेकर आंदोलित एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की हैदरनगर व मोहम्मदगंज इकाई के सदस्यों ने पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ज्ञापन सौंपा. पारा शिक्षकों ने उनके समक्ष अपना दुखड़ा सुनाया. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह सरकार पर दबाव बनाए हुए हैं. विधानसभा में इस मुद्दे पर फिर सरकार को घेरा जायेगा. ज्ञापन देने वालों में राजेश नंदन सिंह, बिजय बहादुर सिंह, हाफिज सलाहुद्दीन, निरंजन सिंह, एकबाल अहमद, माया कुमारी, वंदना कुमारी आदि शामिल थे.

जगह जगह किया गया स्वागत

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का काफिला जैसे ही भीम बराज से हुसैनाबाद विस क्षेत्र में प्रवेश हुआ, बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने एजाज हुसैन उर्फ छेदी खान, रामप्रवेश सिंह, जोगेंद्र सिंह, अनिल सिंह, नेहाल असगर के नेतृत्व  में स्वागत किया. वहां से काफिले की आगवानी एक सौ बाइक ने की. रास्ते में सबनवा मोड़ के समीप बड़ी संख्या में उपस्थित ग्रामीणों ने फूल माला देकर उनका स्वागत किया. उनके साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता मिथिलेश ठाकुर समेत कई नेता शामिल थे.

हैदरनगर के भाई बिगहा में स्वागत व मजार की जियारत की

हेमंत सोरेन के भाई बिगहा पहुंचने पर गाजेबाजे के साथ फूल माला देकर उनका स्वागत युवाओं ने किया. युवाओं के आग्रह पर सैयद शाह की मजार पर उन्होंने चादरपोशी की. लोगों ने हेमंत सोरेन जिंदाबाद, शिबू सोरेन जिंदाबाद, झामुमो जिंदाबाद के नारे लगाये. मौके पर समीर हुसैन, आमीर जफर, विशाल सिंह, मो. रसीद कुरैशी, अशरफ हसन के अलावा राष्ट्वादी कांग्रेस पार्टी के सज्जु खांन, राजू खान, कालिया जी समेत कई लोग शामिल थे.

राकांपा कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

इस दौरान दीवान बिगहा पहुंचने पर सैकड़ों बाईक के साथ राकांपा कार्यकर्तओं उनकी आगवानी की. यात्रा के हुसैनाबाद पहुंचने के पूर्व दीवान बिगहा गांव के समीप स्वागत किया गया. स्वागत कार्यक्रम में मुख्य रूप से  योगेंद्र सिंह उर्फ गुड्डू सिंह, चंदन सिंह, नीतेश सिंह, रौनक सिंह, राजकुमार ठाकुर, मंदीप राम, बब्बलु यादव, जिलानी अंसारी समेत सैकड़ों लोग शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंः झारखंड में आर्थिक रूप से कमजोर अनारक्षित वर्ग को 10 फीसदी आरक्षण का मिलेगा लाभ: रघुवर दास

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: