National

#Delhi_Election : भाजपा की हार का सबक, अमित शाह ने कहा, गोली मारो…भारत-पाक मैच..जैसे बयान नहीं देने चाहिए थे 

विज्ञापन

NewDelhi : गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि गोली मारो और भारत-पाक मैच जैसे बयानों ने भाजपा नेताओं को बचना चाहिए था. पार्टी इस तरह के बयानों से खुद को अलग रखती है. दिल्ली विधानसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद न्यूज एजेंसी PTI ने अमित शाह के हवाले से यह बात कही है. शाह ने कहा कि हो सकता है पार्टी नेताओं द्वारा दिये गये नफरत भरे बयानों के कारण भाजपा को चुनावों में नुकसान उठाना पड़ा हो. दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में आम आदमी पार्टी  को 62 सीटें, भाजपा  को  सिर्फ 8 सीटें मिली.

इसे भी पढ़ें : #Nehru_Cabinet : पटेल को मंत्री नहीं बनाना चाहते थे नेहरू? एस जयशंकर के ट्वीट पर रार, कांग्रेस और रामचंद्र गुहा का जवाबी हमला

भाजपा एक विचारधारा पर आधारित पार्टी है

अमित शाह ने कहा कि हम सिर्फ हार या जीत के लिए चुनाव नही लड़ते हैं. चुनाव बहुत सारे दलों के लिए सरकार बनाने और सरकार गिराने के लिए होते हैं. भाजपा एक विचारधारा पर आधारित पार्टी है, हमारे लिए चुनाव हमारी विचारधारा को बढ़ाने का भी चुनाव होता है. सिर्फ जय पराजय के लिए हम चुनाव नहीं लड़ते. उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव को लेकर मेरा आकलन गलत साबित हुआ.

इसे भी पढ़ें :  सोशल नेटवर्किंग साइट #Facebook पर 27.5 करोड़ फर्जी या डुप्लीकेट खाते होने का अनुमान

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने गोली मारो वाला बयान दिया था

जान लें कि दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने गोली मारो वाला बयान दिया था, वहीं, भारत-पाकिस्तान मैच वाला बयान आम आदमी पार्टी से भाजपा में शामिल हुए कपिल मिश्रा ने दिया था. रिठाला से भाजपा उम्मीदवार मनीष चौधरी के समर्थन में एक जनसभा में अनुराग ठाकुर ने चुनावी रैली में आये लोगों को गद्दारों को गोली मारने वाला भड़काऊ नारा लगाने के लिए उकसाया था. रैली में वित्त राज्य मंत्री ने कहा देश के गद्दारों को, जिसपर भीड़ ने कहा, गोली मारो. इस बयान को लेकर चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर को नोटिस जारी कर जवाब-तलब भी किया था.

इसी क्रम में मॉडल टाउन से भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा ने दिल्ली चुनाव की तुलना भारत-पाकिस्तान के क्रिकेट मैच से की थी. उन्होंने ट्वीट किया था कि आठ फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला होगा. कपिल मिश्रा के बयान पर भी चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस जारी किया था और उन्हें उस ट्वीट को डिलीट करने का निर्देश दिया था.

इसे भी पढ़ें : #Congress के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश अब एके एंटनी की बात से सहमत, हम बहुसंख्यकों की भावनाओं के प्रति असंवेदनशील नहीं हो सकते

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close