JharkhandNEWS

CORONA EFFECTS: छात्रों को मिलने वाली छात्रवृति पर फिलहाल लगा ग्रहण

1500 से 2300 रु मिलनी है छात्रवृत्ति

Ranchi: कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बाद अब छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति पर ग्रहण लग गया है. फ़िलहाल लॉकडाउन को लेकर विभागीय कार्य ठप पड़ चुका है. विभागीय सूत्रों की माने तो आदेश तो जारी हो चुका है लेकिन अभी इसकी प्रक्रिया कोरोना की वजह से लटक गई है. इसने कक्षा नौंवी से लेकर 12 वीं तक के क़रीब 53 हज़ार बच्चों को छात्रवृति का लाभ मिलना है.

advt

सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं को यह छात्रवृत्ति पहली बार दी जाएगी. मुख्यमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना के तहत शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए  दी जाएगी. नौवीं-दसवीं के छात्र-छात्राओं को जहां 150 रुपए महीने की दर से 10 महीने के लिए 1500 रुपए छात्रवृत्ति दी जाएगी, वहीं 11वीं -12वीं के सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं को 230 रुपए महीने के हिसाब से 10 महीने का 2300 रुपए दिये जाएंगे. स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग इसकी तैयारी कर रहा था.

इसे भी पढ़ेः CORONA UPDATES: विश्व के सारे रिकॉर्ड टूटे, देश में पहली बार 24 घंटों में कुल 3,15,478 मामले सामने आए

इससे पहले झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक डॉ शैलेश कुमार चौरसिया ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों से संबंधित छात्र छात्राओं की फिर से संख्या की जानकारी मांगी थी. जो अब तक कोरोना की वजह से कर्मचारी कम होने के बाद नहीं भेजा जा सका.

जेईपीसी के निदेशक डॉ शैलेश कुमार चौरसिया ने कहा कि पढ़ाई बीच में छोड़ने वाले बच्चे वैसे समूह से हैं जो सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक, भौगोलिक, भाषाई, लैंगिक या अन्य ऐसे कारणों के चलते सुविधाहीन स्थिति में हैं. ऐसे बच्चों का स्कूलों में ठहराव और उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए अतिरिक्त प्रोत्साहन के लिए शिक्षा विभाग ने नौवीं से 12वीं में पढ़ने वाले सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान करने का निर्णय लिया है. जो अब लॉकडाउन के बाद ही सम्भव दिख रहा है.

इसे भी पढ़ेः पश्चिम बंगाल चुनाव छठा चरणः 43 विधानसभा सीटों पर वोटिंग जारी, 306 उम्मीदवार मैदान में

इस छात्रवृत्ति का लाभ उन छात्र-छात्राओं को मिलेगा, जिन्हें वर्तमान में किसी भी अन्य योजना से छात्रवृत्ति या अनुदान प्रदान नहीं किया जाता है. सभी जिलों से जिला बार छात्र और छात्राओं की संख्या के आधार पर 15 मई तक राशि की मांग की गई थी. छात्रवृत्ति की राशि छात्र-छात्राओं की बैंक के अकाउंट में दी जाएगी. उसके लिए पूरी जानकारी स्कूल बार मांगी गई है. इसमें छात्र छात्रा का नाम, क्लास, जेंडर, स्कूल का नाम, पता, प्रखंड, जिला, बैंक का नाम, आईएफएससी कोड, अकाउंट नंबर, आधार नंबर, छात्र का मोबाइल नंबर, पिन कोड तक देना होगा.

लाभान्वित होने वाले विद्यार्थी :

9वीं : छात्र 8400, छात्राएं –  9637

10वीं : छात्र – 7274, छात्राएं – 9030

11वीं : छात्र – 5067, छात्राएं – 5648

12वीं : छात्र – 3431, छात्राएं – 3772

इसे भी पढ़ेः JHARKHAND NEWS: स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के नाम पर लॉकडाउन शुरू, जानें-कहां है रियायत और कहां पाबंदी

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: