National

प्रियंका को बंगला खाली करने के आदेश पर बोली कांग्रेस- यह कदम PM और योगी की बेचैनी दिखाता है

विज्ञापन
Advertisement

New Delhi: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का नयी दिल्ली स्थित सरकारी बंगला खाली कराने से जुड़े सरकार के आदेश को लेकर मुख्य विपक्षी पार्टी ने सरकार पर आरोप लगाया है. कांग्रेस ने आरोप लगाते हुए का है कि यह कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बेचैनी दिखाता है.

इसे भी पढ़ें- CoronaUpdate: 24घंटे में रिकॉर्ड 19 हजार से अधिक नये केस, 434 लोगों की मौत

ओछी हरकतों व हथकंडों पर उतर आयी है मोदी सरकार

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि आवास खाली कराने से प्रियंका और कांग्रेस डरने वाले नहीं हैं तथा वे देश एवं उत्तर प्रदेश की जनता की आवाज उठाते रहेंगे. उन्होंने एक बयान में दावा किया कि भाजपा व मोदी सरकार की कांग्रेस नेतृत्व से अंधी नफरत तथा प्रतिशोध की भावना जग जाहिर है. अब तो वह और ओछी हरकतों व हथकंडों पर उतर आए हैं. प्रियंका जी का मकान खाली कराने का नोटिस मोदीजी-योगीजी की बेचैनी को दिखाता है.

advt

सुरजेवाला ने कहा कि कुंठित सरकार के तुगलकी फैसलों से हम डरने वाले नहीं. प्रधानमंत्री मोदी और योगी आदित्यनाथ प्रियंका जी और कांग्रेस की आवाज को रोक नहीं पाएंगे. कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने कहा कि ध्यान भटकाने के मकसद से उठाये गये कदमों का प्रियंका गांधी पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है. वह उत्तर प्रदेश की जनता की लड़ाई लड़ने के मिशन पर निकली हैं और रुकने वाली नहीं हैं.

इसे भी पढ़ें- LAC पर बरकरार तनाव के बीच कल लद्दाख जायेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह  

क्या कहना है सरकार का

सरकार ने बुधवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से कहा कि वह नयी दिल्ली स्थित बंगला एक महीने के भीतर खाली कर दें क्योंकि एसपीजी सुरक्षा वापस लिए जाने के बाद वह आवासीय सुविधा पाने की हकदार नहीं हैं. आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि वह एक अगस्त तक मौजूदा आवास ‘35 लोधी एस्टेट’ खाली कर दें और अगर ऐसा नहीं करती हैं तो उन्हें नियमों के मुताबिक किराये अथवा क्षतिपूर्ति का भुगतान करना होगा.

भेजे गए नोटिस के अनुसार, अगर तय समय सीमा के अंदर प्रियंका गांधी बंगला खाली नहीं करती हैं तो उन्हें किराया/ जुर्माना देना होगा. लेटर जारी होने के बाद कयास ये भी लगाया जा रहा है कि सरकार के इस कदम पर विपक्षी दलों द्वारा विरोध किया जाएगा और जमकर सियासत भी होगी.

इसे भी पढ़ें- Corona से मरे शख्स को दफनाने में नहीं मिली मदद, 48 घंटे तक परिवार ने शव को फ्रीजर में रखा

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: