न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्टन गन ग्रेनेड की गोलियों की गूंज के बीच मना राज्य का स्थापना दिवस, नौ कैबिनेट मंत्रियों ने नहीं की शिरकत

17784 शिक्षकों की जगह 1385 प्लस टू शिक्षकों को मिला नियुक्ति पत्र, 1100 की योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन

5,446

Ranchi: राज्य का स्थापना दिवस फीका रहा. 11 कैबिनेट मंत्रियों में से नौ मंत्री समारोह में शामिल नहीं हुए. सिर्फ दो मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी और अमर बाउरी ने शिरकत की. 17784 हाई स्कूल शिक्षकों की जगह सिर्फ 1385 प्लस टू शिक्षकों को ही नियुक्ति पत्र सौंपा. अब हाईस्कूल शिक्षकों की नियुक्ति की प्रक्रिया दिसंबर तक पूरी की जायेगी. हर भाषा के शिक्षकों की नियुक्ति की जायेगी. जबकि सरकार ने 10 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देने की घोषणा की थी. 1100 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन किया गया. इसमें 62.10 करोड़ की आठ योजनाओं का उद्घाटन और 1095.55 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास किया गया.

इसे भी पढ़ें: स्थापना दिवस पर पारा शिक्षकों का प्रदर्शन, सीएम को काला झंडा दिखाने की कोशिश-पुलिस का लाठीचार्ज

स्टन गन ग्रेनेड से फायरिंग के बीच सीएम ने दिया भाषण

दोपहर 1.55 बजे जब मुख्यमंत्री रघुवर दास भाषण दे रहे थे, उसी समय टेंट में मौजूद पारा शिक्षकों ने हंगामा शुरू कर दिया. काला झंडा और सरकार विरोधी नारे लगाये गये. स्टन गन ग्रेनेड (इस तरह की फायरिंग में तेज आवाज होता है पर जानमाल का नुकसान नहीं होता है) से फायरिंग की आवाज के बीच सीएम ने अपना भाषण खत्म किया. सीएम ने अपने भाषण में कहा कि झारखंड विकास वृद्धि दर में दूसरे, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में चौथे और स्वास्थ्य सेवा सुधार मामले में पहले स्थान पर है.

इसे भी पढ़ें: स्थापना दिवस अपडेटः पारा शिक्षकों के प्रदर्शन को रोकने के लिए मोरहाबादी में हवाई फायरिंग

मुख्य सेवक बेदाग है, बेदाग था और बेदाग रहेगा

silk_park

सीएम ने अपने भाषण में कहा कि मुख्य सेवक बेदाग है. बेगाद था और बेदाग रहेगा. फिर कहा कि यह एक कड़वा सच है कि राज्य गठन के बाद से झारखंड का जितनी तेजी से विकास होना चाहिये, वह नहीं हो पाया. 3477 झारखंड आंदोलनकारियों को चिन्हित कर उन्हें प्रतिमाह 3000 से 5000 रुपये पेंशन दिया जा रहा है. झारखंड पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की देन है. देश और दुनिया में झारखंड की छवि बदल चुकी है. नक्सल और भ्रष्टाचार के लिये अब झारखंड नहीं जाना जाता. सरकार में भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं है.

इसे भी पढ़ें: शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से आठ जनवरी तक, क्या राम मंदिर पर अध्यादेश लायेगी मोदी सरकार?

सीएम ने ये की घोषणाएं

  • 2018 के अंत तक सभी घरों में बिजली
  • 2019 में हर जिले में 24 घंटे बिजली
  • रामगढ़, बोकारो, धनबाद और रांची के बाद देवघर, हजारीबाग, लोहरदगा में पूर्ण विद्युतीकरण
  • हर भाषा के शिक्षकों की नियुक्ति होगी.
  • 17784 हाईस्कूलों की शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया दिसंबर तक
  • 13 लाख किसानों को दिये जा चुके हैं स्वास्थ्य हेल्थ कार्ड
  • पूरे राज्य में शत-प्रतिशत ओडीएफ की घोषणा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: