न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ब्रिटेन के द संडे टाइम्स ने कहा, इस्लामिक स्टेट की पूरे यूरोप में हमले की योजना है

 चार साल पहले फ्रांस की राजधानी पेरिस के एक कन्सर्ट हॉल में किया गया हमला भी इसी कड़ी में शामिल था, जिसमें 130 लोग मारे गये थे.

52

London :   ब्रिटेन के एक प्रसिद्ध समाचार पत्र ने कहा है कि आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट पूरे यूरोप में जानलेवा हमले करने की योजना बना रहा हे.  चार साल पहले फ्रांस की राजधानी पेरिस के एक कन्सर्ट हॉल में किया गया हमला भी इसी कड़ी में शामिल था, जिसमें 130 लोग मारे गये थे. द संडे टाइम्स के अनुसार दस्तावेजों से पता चलता है आईएसआईएस सरगना यूरोप और मध्य पूर्व में आतंकवादी हमलों की योजना को वित्तपोषित और नियंत्रित कर रहे हैं. वह नवंबर 2015 के पेरिस जैसे हमले को दोहराने की योजना बना रहे है.  दस्तावेजों में इस बात की जानकारी दी गयी है कि सीरिया में अपनी तथाकथित खिलाफत खत्म होने के बावजूद आईएस अत्याधुनिक अंतरराष्ट्रीय नेटवर्क चलाने, बैंक डकैती, वाहनों पर हमले, हत्या और कंप्यूटर हैकिंग की योजना बना रहा है.

इसे भी पढ़ें Exclusive : IFS संजीव चतुर्वेदी ने PM मोदी को लिखा पत्र, कहा- मंत्री से फोन पर हुई बातचीत का ब्यौरा…

आतंकी अभियानों की जिम्मेदारी अबु खबाब अल मुहाजिर को

hosp3

आईएस के छह नेताओं के हस्ताक्षर वाले एक पत्र में समूह के खलीफा अबू बक्र अल-बगदादी को संबोधित किया गया है. पत्र में कहा गया है कि आईएस ने विदेश में अपनी रणनीति को संचालन और सीमाओं के आधार पर दो भागों में बांट दिया है. दस्तावेजों के अनुसार विदेशों में आतंकी अभियानों की जिम्मेदारी अबु खबाब अल मुहाजिर को दी गयी है.  उसको रूस, जर्मनी और पूर्वोत्तर सीरिया में आंतकी अभियान चलाने की जिम्मेदारी दी गयी है. दस्तावेजों में 2015 के पेरिस नरसंहार और 2017 के मैनहट्टन हमले का जिक्र है.

नवंबर 2015 में पेरिस और शहर के उत्तरी उपनगर सेंट-डेनिस में सिलसिलेवार तरीके से समन्वित आतंकी हमले किये गये थे. उन हमलों में एक फुटबॉल मैच के दौरान स्टेड डी फ्रांस स्टेडियम के बाहर तीन आत्मघाती हमलावरों ने गोलीबारी की, जिसके बाद गोलीबारी की कई घटनाएं हुईं और रेस्तरां में आत्मघाती बम विस्फोट किया गया.  इस दौरान बाटाकलन कन्सर्ट हॉल में कुल 130 लोग मारे गये थे.

इसे भी पढ़ें  पीएम मोदी के हेलिकॉप्टर से उतारे गये काले बक्से में क्या था,  कांग्रेस ने जांच की मांग की

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: