JharkhandRanchi

चुनावी मौसम को देख साम्यवादी–समाजवादी चिंतक को भाजपा जोड़ रही संघ से : जेएमएम

Ranchi : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कोलकाता रैली को लेकर झारखंड की सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) ने भाजपा पर निशाना साधा है.

पार्टी प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा है कि आज भाजपा वैसे साम्यवादी-समाजवादी चिंतकों को अपने संघी विचारधारा से जुड़ रही है, जिसका कभी संघ से कोई संबंध ही नहीं रहा है.

उन्होंने कहा है कि पश्चिम बंगाल के आगामी विधानसभा चुनाव के ठीक पहले पीएम के कार्यक्रम में आज कई ऐसे-ऐसे जीव देखे गये, जो पहले कभी देखे भी नहीं गये थे.

उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के ठीक पहले भाजपा द्वारा बंगाल या पूर्वी भारत के कुछ बुद्धिजीवी लोगों को अपना बताना निंदनीय है.

इसे भी पढ़ें- मार्च से नहीं चलेंगे 5, 10 और 100 रुपये के पुराने नोट

उन्होंने कहा कि पार्टियों में विचारधारा की लड़ाई हो सकती है. लेकिन केवल चुनावी मौसम को देखकर किसी को अपना बनाना यह सही नहीं है.

उन्होंने कहा कि चाहे वह रामकृष्ण परमहंस हो या लोकनाथ बाबा, मध्व सम्प्रदाय के स्वामी जी, रविंद्र नाथ टैगोर, विवेकनंद हो या नेता जी सुभाष चंद्र बोस हो. सभी को केवल विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा अपना बता रही है. लेकिन ऐसा करने से पहले भाजपा को संघ का इतिहास पढ़ना चाहिए, वहीं संघ से जहां से वह निकली है.

बता दें कि केंद्र सरकार सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन को पराक्रम दिवस के रूप में मना रही है. वहीं, पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) आज के दिन को नायक दिवस या राष्ट्रीय नायक के दिन के रूप में मना रही है.

फॉरवर्ड ब्लॉक, जिसका गठन बोस ने 1939 में किया, और उनके परिवार के कुछ लोगों ने मांग की है कि 23 जनवरी को देश प्रेम दिवस या देशभक्ति के दिन के रूप में मनाया जाना चाहिए.

इसे भी पढ़ें- संविदाकर्मियों के साथ हो रही ठगी, राज्य सरकार की नीयत साफ नहीं: दीपक प्रकाश

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: