न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बालाकोट का फैसला इसलिए लिया गया कि आतंकवाद जहां से कंट्रोल होता है खेल वहीं खेला जाना चाहिये : मोदी

48

New Delhi :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि बालाकोट में हवाई हमला करने का फैसला उन्होंने इसलिए किया कि आतंकवाद जहां से कंट्रोल होता है, ‘खेल’ वहीं खेला जाना चाहिये और मैदान उन्हीं (आतंकवादियों) का हो.

mi banner add

मोदी ने ‘‘मैं भी चौकीदार’’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पाकिस्तान बड़ी मुसीबत में है क्योंकि यदि वह (पाकिस्तान) कहता है कि बालाकोट में कुछ हुआ था तो उसे स्वीकार करना पड़ेगा कि वहां आतंकवादियों का शिविर चलता था.

इसे भी पढ़ें : राहुल गांधी अमेठी के साथ वायनाड से भी लड़ेंगे चुनाव : एंटनी

लोग बालाकोट हवाई हमले पर मोदी को गाली दे रहे हैं

उन्होंने कहा, ‘‘वे लोग कह रहे हैं कि कोई आतंकवादी शिविर नहीं था. अब उन्हें इसे छिपाना पड़ रहा है. वे अब किसी को वहां नहीं जाने दे रहे हैं.

हमे बताया गया है कि पाकिस्तान बालाकोट इलाके का पुनर्निर्माण कर रहा है ताकि वह यह दिखाया जा सके कि वहां एक स्कूल चल रहा है और लोगों को वहां ले जाया जा सके तथा दिखाया जा सके कि वहां कोई आतंकी शिविर नहीं है.’’ उन्होंने कहा कि जो लोग बालाकोट हवाई हमले पर मोदी को गाली दे रहे हैं वे अपने बयानों से पाकिस्तान की मदद कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : एक अप्रैल से बदल जाएंगे आयकर रिटर्न और छूट के कई नियम

‘‘मैं भी चौकीदार’’ कार्यक्रम देशभर में 500 स्थानों पर प्रसारित किया

यह कार्यक्रम देशभर में 500 स्थानों पर प्रसारित किया गया जहां भाजपा कार्यकर्ता, चौकीदार, व्यापारी, किसान सहित अन्य ने मोदी का संबोधन सुना और वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उनसे बातचीत की.  गौरतलब है कि 26 फरवरी को पाकिस्तान के अंदर घुस कर बालाकोट के पास जैश ए मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर भारतीय वायु सेना के बम गिराने के बाद दोनों देशों में तनाव बढ़ गया था.

पाकिस्तान ने जवाबी कार्रवाई करते हुए अगले दिन भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की नाकाम कोशिश की थी. जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के एक काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत ने जैश के शिविर पर हमला किया था.

इसे भी पढ़ें : गठबंधन पर असमंजस के बीच सभी सात सीटों पर दिल्ली कांग्रेस ने संभावित उम्मीदवारों के पैनल बनाए 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: