BiharLead News

फर्जी एक्सचेंज मामले की जांच अब एटीएस करेगी, आतंकी कनेक्शन का शक

Patna:  शहर के गर्दनीबाग थाना क्षेत्र में पकड़े गए फर्जी एक्सचेंज मामले की जांच अब एटीएस करेगी. इसकी जांच में अब पटना पुलिस सहयोग करेगी. इस मामले में अब तक दो आरोपितों की गिरफ्तारी हो चुकी है, जिन्हें जल्द ही रिमांड पर लिया जाएगा. अब तक की छानबीन में जो भी सूचना पुलिस को मिली है उसे भी एटीएस से साझा किया जाएगा. जांच में पता चला कि फर्जी एक्सचेंज का सरगना पश्चिम बंगाल में छिपा है. इस मामले में पुलिस को आतंकी कनेक्‍शन का शक है. इस इलाके में फर्जी एक्‍सचेंज का मामला पहले भी सामने आ चुका है. पटना में लगातार इस तरह की गतिविधियां सामने आने से पुलिस के कान खड़े हो गए हैं.

 

इसे भी पढ़ें : रांची के बुढ़मू में जंगली हाथी ने दो लोगों को कुचल कर मार डाला, ग्रामीणों में आक्रोश

आइबी के इनपुट पर एटीएस और पुलिस 20 जुलाई को गर्दनीबाग में छापेमारी कर फर्जी एक्सचेंज का पर्दाफाश किया गया था. इस दौरान दो सगे भाइयों अनिल और सुनील चौरसिया को गिरफ्तार किया गया था. जिन पर फर्जी तरीके से विदेशों में कॉल करने का आरोप है. इनके पास से कई इलेक्ट्रानिक डिवाइस बरामद हुआ था. अब बंगाल से इस गैंग में शामिल अन्य सदस्य की गिरफ्तारी के बाद कई और नई बातें सामने आ सकती है.

 

Catalyst IAS
ram janam hospital

एसपी सिटी (मध्य) अम्बरीश राहुल ने बताया कि फर्जी एक्सचेंज मामले की जांच एटीएस करेगी. पुलिस जांच में सहयोग करेगी. दो भाइयों की गिरफ्तारी के बाद एक अन्य की तलाश की जा रही है. वह पश्चिम बंगाल का रहने वाला है. उसकी गिरफ्तारी से इस बात का खुलासा होगा कि पश्चिम बंगाल से विदेशों में कौन-कौन बात करते थे.

 

 

The Royal’s
Sanjeevani

Related Articles

Back to top button