JharkhandRanchi

बिचौलियों व दलालों के हितैषी हैं अकाली दल और कांग्रेस : दीपक प्रकाश  

  • ‘नये कृषि कानून से आत्मनिर्भर किसान और देश की खुलेगी राह’

Ranchi:  प्रदेश भाजपा ने नये कृषि कानून को ऐतिहासिक बताया है. इस कानून से 2022 तक देश में किसानों की आय दोगुनी होने की बात कही है. प्रदेश अध्यक्ष और सांसद दीपक प्रकाश के अनुसार केंद्र की मोदी सरकार ने कृषि कानून के जरिये किसानों का हाथ मजबूत करने की पहल की है.

रांची महानगर द्वारा शनिवार को आयोजित किसान संगोष्ठी में उन्होंने कहा कि अकाली दल और कांग्रेस जैसी पार्टियां बिचौलियों, दलालों की हितैषी बन गयी हैं. वे झूठ फैला रहे हैं. देश में मंडियां भी बनी रहेंगी. किसान मंडियों के साथ साथ मनचाहे तरीके से कहीं भी अपनी फसल भी बेच सकता है.

संगोष्ठी में सांसद संजय सेठ, विधायक नवीन जायसवाल, समरीलाल, पूर्व विधायक गंगोत्री कुजूर, महानगर अध्यक्ष केके गुप्ता, सुरेंद्र महतो (अध्यक्ष, ग्रामीण) भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – दो करोड़ 90 लाख लड़कियां-महिलाएं Modern Slavery की शिकार : UN की रिपोर्ट

200 गुना तक बढ़ा उत्पादन, आमदनी नहीं

दीपक प्रकाश के मुताबिक देश में आजादी के समय किसान जितना उत्पादन करते थे, आज उसका 200 गुना तक कर रहे हैं. पर इस हिसाब से उनकी आमदनी में फर्क नहीं पड़ा है. ऐसे में मोदी सरकार ने कृषि संबंधी जो 3 कानून पास किये हैं, वह आत्मनिर्भर भारत की राह बनायेगा. खुला बाजार के जरिये किसान अपनी फसलों को कहीं भी बेचने को स्वतंत्र हैं. मंडियों के अलावे वे अपनी पसंद से ग्राहकों, कंपनियों के पास माल निर्धारित मूल्यों पर बेच सकते हैं. बिचौलियों, दलालों के चंगूल से उन्हें अब छुटकारा मिलेगा. MSP (न्यूनतम समर्थन मूल्य) की शुरूआत केंद्र की भाजपा सरकार ने शुरू किया है. यह जारी रहेगा. किसान अपनी बेकार पड़ी जमीन पर किसी के साथ एग्रीमेंट कर फसल लगायेंगे औऱ लाभ उठा सकेंगे. बंजर जमीन से भी अब वे पैसे कमा सकते हैं. एसेंसिशयल कमोडिटी एक्ट से भी किसानों को बड़ी राहत मिलेगी.

इसे भी पढ़ें – गढ़वाः बच्चों के विवाद में बीच-बचाव कर रही महिला की मौत

स्वामीनाथन समिति की रिपोर्ट पर नया कानून

नया कृषि कानून स्वामीनाथन समिति की रिपोर्ट के आधार पर लागू किया गया है. साथ ही 23 हजार किसान संगठनों की भी राय ली गयी थी. इसके अलावे मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ भी ऐसे कानूनों की वकालत कर चुके हैं. पंजाब, ओडिशा जैसे राज्यों में क़ॉन्ट्रैक्ट खेती हो रही है. पर कांग्रेस जैसी पार्टियां झारखंड औऱ देशभर में भ्रामक प्रचार कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – लक्ष्मी बॅाम्ब के ट्रेलर ने तहलका मचाया,  भारत में सिर्फ 24 घंटे में मिले 70 मिलियन व्यूज 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: