Khas-KhabarNational

एयरपोर्ट अथॉरिटी ने जारी की नई गाइडलाइंसः सोशल डिस्टेंसिंग और आरोग्य सेतू ऐप जरूरी

विज्ञापन

New Delhi: देश में लॉकडाउन के चौथे चरण में कई तरह की छूट दी गयी है. एक ओर जहां एक जून से चलने वाली ट्रेनों के लिए गुरुवार से टिकटों की बुकिंग शुरू हो गयी है.

वहीं 25 मई से घरेलू उड़ान भी शुरू हो रहे हैं. और फिर से शुरू होनेवाले घरेलू उड़ानों को लिए एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया ने नई गाइडलाइन जारी की है.

इसे भी पढ़ेंःयात्रियों को राहतः एक जून से चलेंगी 200 यात्री ट्रेनें, आज से बुकिंग, जानें क्या होंगे नियम

advt

सोशल डिस्टेंसिंग समेत आरोग्य सेतू ऐप जरूरी

एएआइ ने घरेलू उड़ानें पुन: आरंभ करने की खातिर हवाईअड्डों के लिए मानक संचालक प्रक्रियाएं (एसओपी) जारी की. नई गाइडलाइन के मुताबिक, सभी यात्रियों को अनिवार्य रूप से अपने फोन पर आरोग्य सेतु ऐप के साथ रजिस्टर्ड होना चाहिए. लेकिन आरोग्य सेतु ऐप 14 साल से कम आयु के बच्चों के लिए अनिवार्य नहीं है.

adv

यात्रियों के लिए हवाईअड्डा टर्मिलन इमारत में प्रवेश करने से पहले थर्मल जांच क्षेत्र से गुजरना अनिवार्य होगा.

हवाईअड्डा संचालकों को टर्मिनल इमारत में प्रवेश से पहले यात्रियों के सामान को संक्रमण मुक्त करने के लिए उचित प्रबंध करने होंगे. एयरपोर्ट प्रबंधन को हवाई अड्डे पर सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखना होगा.

यात्रियों और एयरलाइंस कर्मियों को एयरपोर्ट पहुंचाने के लिए राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन को पब्लिक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था करनी होगी.

इसे भी पढ़ेंः#Corona – आर्थिक संकट पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने माना, किसी सरकार के पास नहीं है कोई आईडिया

25 मई से घरेलू यात्री उड़ानों का परिचालन

देश में 25 मई से घरेलू विमान शूरू हो रहे हैं. नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को कहा कि घरेलू यात्री उड़ानों को 25 मई से क्रमिक तरीके से बहाल किया जाएगा.

पुरी ने ट्वीट किया, ‘‘घरेलू उड़ानों का परिचालन 25 मई, 2020 से क्रमिक तरीके से फिर शुरू किया जाएगा. सभी हवाई अड्डों और विमानन कंपनियों को 25 मई से परिचालन के लिए तैयार रहने को सूचित किया जा रहा है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘नागर विमानन मंत्रालय यात्री परिवहन के लिए मानक परिचालन प्रक्रियाएं (एसओपी) अलग से जारी कर रहा है.’’

वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने कहा कि शुरू में 30 प्रतिशत घरेलू उड़ानों को परिचालन की इजाजत दी जाएगी. एक अधिकारी ने कहा, इसके बाद धीरे-धीरे उड़ानों की संख्या बढ़ाई जाएगी.

अधिकारियों ने यह भी कहा कि सरकार सभी हवाई किरायों की सीमा तय कर सकती है ताकि एयरलाइन्स अनाप-शनाप किराया न वसूल सकें. अधिकारी ने कहा, हवाई किरायों पर निम्नतम मूल्य और अधिकतम मूल्य सीमा के संबंध में फिलहाल विचार चल रहा है. जल्द फैसला किया जाएगा.

हालांकि, पुरी ने यह नहीं बताया कि अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें कब बहाल होंगी. बता दें कि कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के बीच देश में 25 मार्च से सभी व्यावसायिक यात्री उड़ानें निलंबित हैं.

इसे भी पढ़ेंः#SuperCyclone अम्फान से बंगाल में 10-12 लोगों की मौत का अनुमान, ओडिशा में गयी 3 की जान

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button