NationalTop Story

144 पूर्व सैन्य अधिकारियों ने राष्ट्रपति-पीएम को लिखी चिट्ठी, कहा-खुफिया तंत्र की नाकामी है गलवान हमला

पत्र में पीएम के घुसपैठ वाले बयान का भी जिक्र, कहा- विरोधाभासी बयान का चीन ने उठाया फायदा

विज्ञापन
Advertisement

New Delhi: देश के 144 पूर्व सैनिकों, अफसरों ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री, CDS, तीनों सेनाओं के प्रमुखों को पत्र लिखकर गलवान घाटी के मामले में राजनीतिक, नागरिक और सैन्य प्रतिष्ठानों पर विफलता का आरोप लगाया है. संयुक्त पत्र में सरकार पर लगातार भ्रम फैलाने का आरोप लगाते हुए मामले की स्पष्ट करने की भी मांग की गई है. साथ ही चीनी घुसपैठ के बारे में भी जवाब देने की मांग की गई है.

इसे भी पढ़ेंःVikas Dubey Encounter: ‘उम्मीद है कि विकास दुबे कानपुर न पहुंचे’, पुलिस अधिकारी का वीडियो वायरल

इंटेलिजेंस की नाकामी है घुसपैठ

पूर्व सैन्य अधिकारियों ने अपनी चिट्ठी में 15 जून को गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के लिए राजनैतिक, सामाजिक और सैन्य स्तर की नाकामी को जिम्मेदार ठहराया है. पत्र में कहा गया है कि चीन सेना के साथ हुई हिंसक झड़प राजनीतिक नेतृत्व, सामाजिक और सैन्य नेतृत्व की नाकामी हो सकती है.

advt

पूर्व सैन्य अधिकारियों ने देश के इंटेलिजेंस सिस्टम को अपग्रेड करने की भी मांग की है. साथ ही मांग की गई है कि भारत चीन विवाद पर सरकार की तरफ से बयान जारी कर स्थिति साफ की जाये.

विरोधाभासी बयान का चीन ने फायदा उठाया

पूर्व सैन्य अधिकारियों की चिट्ठी में प्रधानमंत्री के उस बयान का खास तौर पर उल्लेख किया गया है, जिसमें उन्होंने भारतीय सीमा में चीनी घुसपैठ की बात से इनकार किया था. पूर्व सैन्य अधिकारियों ने पत्र में कहा है कि पीएम के बयान का बीजिंग ने उल्लेख करते हुए पूरी गलवान घाटी पर अपना दावा पेश कर दिया था.

लेकिन बाद में पीएमओ की तरफ से बयान पर आयी सफाई से ये स्पष्ट हो गया था कि पीएम मोदी ने जो बयान दिया है, गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद की स्थिति को लेकर दिया गया था. चिट्ठी में इस बात का जिक्र है कि अस्पष्ट, मौखिक और विरोधाभासी बयान का चीन ने फायदा उठाया. पत्र में ये मांग की गयी है कि भारत चीन सीमा विवाद पर सरकार की तरफ से बयान जारी कर स्थिति साफ की जाये. साथ ही ‘भविष्य में ऐसी किसी स्थिति में औपचारिक बयान जारी किए जाने चाहिए, ताकि जनता के बीच किसी तरह के संदेह की स्थिति ना पैदा हो ओर कोई अन्य देश इस बात का फायदा ना उठा सके.’

इसे भी पढ़ेंःJBVNL की राजस्व वसूली में इजाफा, फरवरी में 29 लाख जबकि जून में कलेक्ट किये 225 करोड़

चिट्ठी में पूर्व सैन्य अधिकारियों ने मामले की जांच की भी मांग की है. पत्र में लिखा है कि राजनीतिक नेतृत्व और राष्ट्रपति तथ्यों की जांच के लिए एक समिति बनाएं, जो लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में चीन के घुसपैठ, जमीन हथियाने की जांच करे और एक तय समय में अपनी रिपोर्ट संसद में पेश करे.

इन 144 पूर्व सैन्य अधिकारियों ने लिखी चिट्ठी

टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के अनुसार, यह चिट्ठी पूर्व नौसेना अध्यक्ष एडमिरल एल. रामदास के द्वारा लिखी गई है, जिसका 143 पूर्व सैन्य अधिकारियों ने समर्थन किया है. जिनके नाम हैं-

Admiral Laxminarayan Ramdas, PVSM, AVSM, VrC, VSM
Lt Gen Suresh Samarth, AVSM
Lt Gen Narendra Aul, AVSM
Lt Gen Dasarathy Raghunath, PVSM, AVSM
Vice Admiral Madanjit Singh , PVSM AVSM
Vice Admiral Raman Prem Suthan, PVSM,AVSM,VSM
Air Marshal Nanda Cariappa, PVSM, VM
Maj Gen Ashu Sharma, VSM
Maj Gen Ian Cardozo, AVSM, SM
Maj Gen Kulbir Dahiya,
Maj Gen Mohan Singh,
Maj Gen S.G.Vombatkere, VSM
Maj Gen BS Keron, VSM
Maj Gen Sishan Chohan,
Maj Gen Inderjit Kashyap,
Maj Gen Prakash Panjikar , VSM
Maj Gen Arun Chauhan,
Maj Gen Kulbir Dahiya,
Maj Gen M PS Kandal ,
Maj Gen Arun Srinivasan,
Rear Admiral Subhash Chandra Anand, AVSM
Air Vice Marshal Ram Prakash Mishra,
Brigadier Vangala H M Prasad,
Brigadier Anantha Narayanan,
Brigadier Pramod Kumar Bhalla,
Brigadier Atma Ram, COAS CC
Brigadier Satish Kumar, VSM
Brigadier Hiremagalur Gopal, AVSM
Brigadier NM Paul,
Brigadier Kamal Sood, VSM
Brigadier Israr Khan, KC
Brigadier Narender Dabas,
Brigadier Jagat Pal Singh,
Brigadier Jawahar Kaul, COAS CC
Brigadier Satish Prakash Agarwal,
Brigadier Kartar Singh,
Brigadier Ved Pal Singh , VSM
Brigadier James M Devadoss, SM
Brigadier Manmohan Deshpande,
Brigadier Prem Hejmadi,
Brigadier Ranbir Sethi,
Commodore Medioma Bhada,
Commodore Omnath J Mathur, VSM
Commodore Dileep Gupte,
Commodore Rajinder Viro,
Commodore Sl Thangam,
Air Commodore Shirish Dabadghao,
Air Commodore Manmohan Singh Duggal,
Col Jaswant Singh ,
Col Roy Chacko,
Col Lallan Singh,
Col Anil Sahgal,
Col Shekhar Singh,
Col HM Singh,
Col Vivek Bopiah,
Col Fredrick D’Sa, VSM
Col Krishnanunni Ravunniarath,
Col Ramesh Chandra Verma,
Col Rameshwar Lal Beniwal, SC
Col Edwin Jesudoss, GOC-in-C CC
Col Kartar Singh,
Col CS Kohli,
Col Bansi Kaul,
Col Bhadran Ravi,
Col Milton Adhikari,
Col M S Krishnan,
Col Pavan Nair, VSM
Col PPS Kumaran, COAS CC
Col Atul Mehra ,
Col Nataraja Thiagarajan,
Col Sukhvinder Singh Khera ,
Col Kuldev Pathania ,
Col Abhaya Awasthi,
Col PK Vasudevan,
Col Satish Narula,
Col Manmohan Singh,
Col Manoj Tripathi
Col Dinesh Kumar ,
Col Pramod Jaiswal,
Col Prakash Rao
Capt (IN) Raj Bir Mohindra,
Capt (IN) Virendra Singh Hooda,
Gp Capt Diljit Bobb ,
Gp Capt Vivek Bandopadhay, SC, VM(G), GOC – in C CC
Lt Col Srinivas Patri,
Lt Col Dinesh Kumar ,
Lt Col Romesh Chugh,
Lt Col Kiyam Achouba Singh,
Lt Col Jagdeesh Desai ,
Lt Col Rakesh Bhandari ,
Lt Col Santosh Abhyankar, YSM
Lt Col Vijay Kharkar,
Lt Col Gurmukh Singh,
Lt Col Anand Balraj,
Lt Col Vikas Gosain, GOC – in – C CC
Lt Col Mateti Upender, COAS CC
Lt Col Anil Suri,
Lt Col Subeydar Singh,
Lt Col Hari Bisht,
Lt Col Jaiparkash Narain,
Lt Col Srinivas Patri,
Lt Col Mohan,
Lt Col Diwan Singh Khadka,
Lt Col Noel Ellis,
Lt Col Kuppaswamy R Belle,
Commander Kujad Jani,
Commander R Biliya,
Commander Sudhir Dua,
Surgeon Commander Abraham Adangapuram , VSM
Wg Cdr Shashank Bendre,
Wg Cdr Prabhat Kumar Ayre,
Wg Cdr D N Sahae, VrC
Wg Cdr Basudev Mukherji,
Wg Cdr Rajesh Khosla,
Wg Cdr Kumaran Tampi Sudhir,
Wg Cdr Rakesh Sant,
Maj Khadka Gurung,
Maj Devasahayam MG,
Maj Priyadarshi Chowdhury, SC
Maj Rajnish Sharma,
Maj Suresh Vikramadithyan ,
Maj Majesh Patel,
Maj Behram Dadaemery,
Maj Roopak Radhakrishnan,
Maj NK Gadeock ,
Maj Sanjeev Bhagwani,
Lt Commander R W Kori,
Lt Commander Farokh Tarapore, VSM
Sqn Ldr Rana Chhina, MBE
Sqn Ldr Bidyut Chatterjee,
Sqn Ldr Vasant Ghanate ,
Capt Raveendranath S,
Capt T G A Raghavan,
Capt Surinder Pal Singh,
Capt Sanjay Gandhi,
Capt Dr R Balasubramanian ,
Lieutenant (IN) Dattajirao Nalawade,
Chief Petty Officer Vijay Singh Bais,
Junior Warrant Officer Sivasankaran Pacheeri ,
Hav Virsingh Tewatia,
Petty Officer M Ali,
Able Seaman Cyrus Saiwalla ,
Corporal Chandu Venkateswar Rao,
Leading Seaman Ram Bachan Maurya

इसे भी पढ़ेंःVikas Dubey Encounter: मायावती ने की पूरे प्रकरण की जांच कराने की मांग

advt
Advertisement

3 Comments

  1. 144 retired Defence officers those who have sign a letter they can do it for national interest but making publicaly is clearly indicates it is politically motivated ofcourse statement of Gov.about entering chinese in our area was suspicious but later it was cleared .

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: