National

 2019 के लोकसभा चुनाव में वीवीपैट (VVPAT) मशीनों का इस्तेमाल किया जायेगा

Amritsar  : 2019 के लोकसभा चुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर वीवीपैट (VVPAT) का इस्तेमाल किया जायेगा. यह बात चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कही है. वीवीपैट एक ऐसी मशीन है, जिससे उस पार्टी के चुनाव चिह्न वाली पर्ची निकलती है, जिसे वोट दिया गया होता है.  इस क्रम में यह सुनिश्चित होता है कि वोट उसी उम्मीदावर को गया है, जिसे मतदाता ने वोट दिया हो. वोटिंग के बाद पर्ची एक बॉक्स में चली जाती है.   मतदाता इसे अपने घर नहीं ले जा सकता.  बता दें कि ईवीएम से चुनाव कराने के मुद्दे पर राजनीतिक गलियारों में घमासान मचा हुआ है. इसंबंध में चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने होशियारपुर, पठानकोट,  अमृतसर, जालंधर, तरनतारन, कपूरथला, गुरदासपुर जिलों के चुनाव अधिकारियों के साथ बैठक के बाद मीडिया को जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें :   भारी संख्या में ट्रेनों के माध्यम से रोहिंग्या केरल पहुंच रहे हैं, पुलिस अलर्ट  

लोकसभा चुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर 100 प्रतिशत वीवीपैट मशीन उपलब्ध होगी

Catalyst IAS
ram janam hospital

श्री अरोड़ा ने अमृतसर में कहा, विगत में हुए चुनावों में वीवीपैट मशीनों का इस्तेमाल सफल रहा है. भारत निर्वाचन आयोग 2019 के लोकसभा चुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर 100 प्रतिशत वीवीपैट मशीन उपलब्ध कराने को प्रतिबद्ध है.  चुनाव आयोग द्वारा आगामी लोकसभा चुनाव में एम-3 ईवीएम का इस्तेमाल किये जाने की खबर है, जिसमें वीपीपैट इनबिल्ट होगा.जान लें कि कुछ विधानसभा चुनावों के दौरान कई जगहों से ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें मिल रही थीं. ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतों के मद़देनजर चुनाव आयोग ने आगामी लोकसभा चुनाव में एम-3 (थर्ड जेनरेशन मशीन) ईवीएम के इस्तेमाल का फैसला लिया है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

लखनऊ के सिटी मैजिस्ट्रेट अमित कुमार के अनुसार, एम-3 ईवीएम मशीनों में अलग से वीवीपैट लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. इसमें सेल्फ डायग्नोस्टिक फीचर्स भी हैं, जिससे फॉल्ट के बारे में भी पता चल जायेगा. बताया गया हे कि इसमें कंट्रोल यूनिट और बैलेट यूनिट एक दूसरे से अटैच  हैं.

Related Articles

Back to top button