JharkhandLateharLead NewsNEWSTOP SLIDER

टाना भगतों के लातेहार व्यवहार न्यायालय का घेराव करते हुए जमकर बवाल किए जाने के मामले में हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान

Ranchi: टाना भगतों के द्वारा सोमवार को लातेहार जिला मुख्यालय स्थित व्यवहार न्यायालय का घेराव करते हुए जमकर बवाल किए जाने के मामले में झारखंड हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लिया है. हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने विभिन्न समाचार पत्रों में छपी खबर के आधार पर मामले में स्वतः संज्ञान लिया है. कोर्ट ने मामले में राज्य के डीजीपी और मुख्य सचिव तलब किये गये.  इन्हें अगले सप्ताह तक मामले से संबंधित रिपोर्ट दायर करने का निर्देश दिया है. दोनों अधिकारियों को   व्यवहार न्यायालय लातेहार की सुरक्षा दुरुस्त करने के लिए भी कहा है. अब मामले की अगली सुनवाई 20 अक्टूबर को होगी.

 

बता दें कि बीते सोमवार को टाना भगतों की ओर से किए गए पथराव में लातेहार सदर थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता समेत पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए थे. उग्र प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को आंसू गैस और वॉटर कैनन का भी प्रयोग करना पड़ा था. टाना भगतों ने इस दौरान पुलिस की पीसीआर वाहन को भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया था. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए लाठी चार्ज भी किया था.

 

क्या है मामला

सोमवार को अखिल भारतीय टाना भगत संघ के तत्वावधान में टाना भगतों ने पांचवी अनुसूची के तहत कोर्ट कचहरी बंद करने की मांग को लेकर ही लातेहार व्यवहार न्यायालय का घेराव किया और अपनी मांगों के समर्थन में जमकर नारे लगाए. घायल पुलिसकर्मियों में थानेदार अमित कुमार गुप्ता, सिपाही सत्यनारायण उरांव, कुमारी अमित लक्ष्मी, अंजू रोज खलखो और मनोरमा कुमारी शामिल हैं.

Related Articles

Back to top button