JharkhandRanchi

एक ही सड़क का डेढ़ साल में दो बार निकला टेंडर, पहली बार 75 लाख तो दूसरी बार 2.5 करोड़ का टेंडर 

Ranchi : बोकारो जिला के दो प्रखंड जरीडीह और कसमार को जोड़ने वाली सड़क का दो बार टेंडर निकाला गया है. यह टेंडर डेढ़ साल के भीतर दो बार निकाला गया है. पहली बार राज्य संपोषित योजना के तहत लगभग 75 लाख रुपये की राशि से विशेष मरम्मती कार्य किया गया था.

अब एक बार फिर से उसी सड़क की मरम्मती के लिए टेंडर निकाला गया है. दूसरी बार पीएमजीएसवाई (प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना) के तहत लगभग  2.5 करोड़ की लागत से मरम्मती का काम किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः रांची के कोचिंग संस्थानों की लूट कथा-6 : इंजीनियर-डॉक्टर बनाने का सपना दिखा छठी क्लास के स्टूडेंट्स का बर्बाद कर रहे करियर

advt

जानकारी के अनुसार डेढ़ साल पूर्व चंद्रपुरा के एक ठेकेदार द्वारा इसी सड़क में लगभग 4 किलोमीटर तक विशेष मरम्मत कार्य किया गया. मरम्मती कार्य के तहत वाराडीह के समीप गार्डवाल का निर्माण किया गया था. जिसका शिलान्यास पूर्व विधायक योगेश्वर महतो बाटुल व गिरिडीह के पूर्व सांसद रविंद्र कुमार पांडेय ने किया था.

अब फिर उसी सड़क कि मरम्मती के लिए विभाग की ओर से निविदा निकालकर सड़क की लंबाई बांधडीह से वनचास होते हुए भाया कसमार प्रखंड के तीनकोनिया चौक तक  कर दिया गया है. इसकी लंबाई लगभग ग्यारह किलोमीटर है. जिसमें सड़क की पिचिंग, पीसीसी पथ निर्माण, पुल निर्माण गाडवाल संहित अन्य कार्य किए जा रहे हैं. इस मामले की जानकारी कसमार अंचल के दिवाकर महतो ने ग्रामीण विकास विभाग सचिव को पत्र लिखकर दी थी.

इस बारे में कसमार प्रखंड के प्रमुख विजय किशोर गौतम कहना है कि सड़क निर्माण की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए. दो साल में एक ही सड़क की मरम्मति कराना कहीं से सही नहीं है.

इसे भी पढ़ेंः Jamshedpur में कोरोना पॉजिटिव युवक अस्पताल से भाग कर घर पहुंचा, ढोल-तासे से घरवालों ने किया स्वागत, पुलिस ने फिर पहुंचाया अस्पताल

adv

क्या कहते हैं जिम्मेदार

इस संबंध में पूछे जाने पर ग्रामीण विकास विभाग के कनीय अभियंता सरोज मेहता ने कहा कि वर्ष 2018 में राज्य संपोषित योजना के तहत उक्त सड़क की मरम्मती के साथ गार्ड वाल निर्माण किया गया था.

लेकिन पिछले साल ही पीएमजीएसवाई  के तहत सड़क का सर्वे  फिर से विभाग के द्वारा कराया गया था. जिसमें कुल 11 किलोमीटर के आसपास का सर्वे  हुआ था. जिसके बाद सड़क की फिर से निविदा निकाली गयी है. जिसमें अभी पीएमजीएसवाई के तहत काम किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः Union Cabinet Decision: किसानों के लिए ‘वन नेशन, वन मार्केट’ का ऐलान, देखें बड़े फैसले

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button