न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दक्षिण भारत के योगी आदित्यनाथ कहे जानेवाले स्वामी परिपूर्णानंद भाजपा में शामिल हुए  

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने स्वामी परिपूर्णानंद के शामिल होने पर कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव में उनकी वजह से भाजपा को नयी उर्जा मिलेगी.

112

Hydrabad : तेलंगाना में हिंदू वाहिनी के संस्थापक व दक्षिण भारत के योगी आदित्यनाथ कहे जाने वाले  46 वर्षीय स्वामी परिपूर्णानंद शुक्रवार 19 अक्टूबर को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गये. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने स्वामी परिपूर्णानंद के शामिल होने पर कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव में उनकी वजह से भाजपा को नयी उर्जा मिलेगी. बता दें कि 119 सदस्यीय विधानसभा के लिए यहां सात दिसंबर को वोटिंग, जबकि 11 को मतगणना होगी. जानकारों के अनुसार स्वामी परिपूर्णानंद के जरिए भाजपा  तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) को कांटे की टक्कर दे सकती है. परिपूर्णानंद की हिंदुत्व समर्थक वाली छवि के कारण दक्षिण भारत का योगी आदित्यनाथ भी कहा जाता है.  खबरों के अनुसार उप्पल के भाजपा विधायक एनवीएसएस प्रभाकर ने हैदराबाद में अमित शाह से परिपूर्णानंद को पहली बार सितंबर में मिलवाया था. उस समय कहा गया था कि वह निश्चित रूप से चुनाव में अहम भूमिका निभायेंगे. सूत्रों के अनुसार दिल्ली में भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में शनिवार को इस पर चर्चा की जायेगी कि पार्टी में उनकी सेवाएं किस प्रकार ली जा सकती है.  साथ ही उनके चुनाव लड़ने को लेकर भी फैसला किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें –  धू…धू…कर जल रहा था रावण, पटाखों के शोर के बीच ट्रेन की चपेट में आये 61 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल

अमित शाह ने दिल्ली में पत्रकारों को स्वामी से मिलवाया

अमित शाह ने दिल्ली में पत्रकारों को स्वामी से मिलवाया. इस अवसर पर पर परिपूर्णानंद ने कहा कि वह भाजपा के सेवक के रूप में काम करेंगे और पार्टी से किसी प्रकार की उम्मीद नहीं रखेंगे.  देश के दक्षिणी हिस्सों में पार्टी का संदेश जन-जन तक पहुंचाने का काम करेंगे. स्वामी  के अनुसार वे 24 घंटे, सातों दिन काम करेंगे. मुझे कुछ चाहिए भी नहीं, क्योंकि तेलगु लोगों ने मुझे बहुत कुछ दिया है.  बता दें कि परिपूर्णानंद ने हाल ही में भारत टुडे नाम से आध्यात्मिक टीवी चैनल लॉन्च किया है, जिसे एनआरआई, डॉक्टर्स और अन्य पेशेवरों का समर्थन हासिल है. राजनीतिक जानकारों के अनुसार स्वामी परिपूर्णानंद पहले ही काफी मशहूर थे.

palamu_12

वह हिंदू संगठनों के बीच और लोकप्रिय तब हुए, जब उन्होंने फिल्मकार काठी महेश का विरोध किया. बता दें कि महेश द्वारा हिंदू देवताओं और रामायण को लेकर विवादित बयान दिया गया था. दक्षिण भारत में स्वामी परिपूर्णानंद का समाज सेवा और धार्मिक गतिविधियों के क्षेत्र में बड़ा योगदान है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: