National

हेगड़े के बयान पर बवालः कांग्रेस ने पीएम मोदी से मांगा स्पष्टीकरण, बैकफुट पर बीजेपी

NewDelhi: कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में भाजपा नेता अनंत हेगड़े के कथित बयान को लेकर पीएम मोदी और बीजेपी को घेरा है. सोमवार को कांग्रेस ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद में इस पर स्पष्टीकरण देना चाहिए.

पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने यह आरोप भी लगाया कि दिल्ली चुनाव में ध्रुवीकरण के माध्यम से वोट हासिल करने के लिए भाजपा के कई नेता और मंत्री भड़काऊ बयान दे रहे हैं, जो देश की आत्मा पर चोट है.

इसे भी पढ़ेंःछात्रा के साथ यौन उत्पीड़न के आरोपी भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद को कोर्ट से मिली जमानत

पीएम दें स्पष्टीकरण- आनंद शर्मा

आनंद शर्मा ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘ महात्मा गांधी का और आजादी के आंदोलन का इससे (हेगड़े की टिप्पणी) बढ़कर कोई अपमान नहीं हो सकता. इस पर कार्रवाई होनी चाहिए. अगर प्रधानमंत्री और सरकार कार्रवाई नहीं करते हैं तो यह साबित हो जाएगा कि इनकी नीयत में खोट है.’ शर्मा ने कहा, ‘हमारी मांग है कि प्रधानमंत्री संसद में आएं और इस मामले पर स्पष्टीकरण दें.’

कांग्रेस नेता ने यह आरोप भी लगाया कि भाजपा नेताओं के वैचारिक पूर्वजों ने स्वतंत्रता की लड़ाई का विरोध किया था और ऐसे में उनके ये बयान चौंकाने वाले नहीं है.

हेगड़े की टिप्पणी को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि ‘कट्टाग्रह’ पर विश्वास रखने वाले ‘सत्याग्रह’ को स्वीकार नहीं कर सकते.

इसे भी पढ़ेंःवो कौन लोग हैं, जो दिल्ली के चुनाव में गोली चलाने वाले गैंग को प्रोत्साहित कर रहे हैं?

सुरजेवाला ने दावा किया, ‘‘ये मोदी जी का ‘भारत’ है जहां बापू के विचार और उनके रास्ते पर रोज हमला होता है.’’

उन्होंने कहा, ‘मोदी जी, क्या अनंत हेगड़े पर कार्रवाई होगी? अगर कार्रवाई नहीं होती है तो साबित हो जाएगा कि आवाज हेगड़े की है और विचार मोदी जी का है.’

इससे पहले पार्टी प्रवक्ता जयवीर गिल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘महात्मा गांधी को अंग्रेजों के चमचों और जासूसों के कैडर से प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है.’’ उन्होंने यह भी दावा किया कि इस समय भाजपा को ‘नाथूराम गोडसे पार्टी’ कहा जाना चाहिए.

बैकफुट पर बीजेपी

सूत्रों की मानें तो,भारतीय जनता पार्टी सांसद अनंत कुमार हेगड़े के बयान से असहमत है. और पूर्व केंद्रीय मंत्री को बिना शर्त माफी मांगने के लिए कहा गया है.

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि कर्नाटक के नेता की टिप्पणी ‘निंदनीय” है और पार्टी नेतृत्व उनसे नाराज़ है.

उन्होंने बताया, “ पार्टी ने अपनी नाखुशी उन्हें अवगत करा दिया है और उनसे स्थिति स्पष्ट करने को कहा गया है. महात्मा गांधी का किसी भी प्रकार का अपमान कतई स्वीकार्य नहीं है.”

गौरतलब है कि हेगड़े ने बेंगलुरू के एक कार्यक्रम में कथित तौर पर दावा किया कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक ‘नाटक’ था.

अनंत हेगड़े ने कहा है कि इन तथाकथित नेताओं में से किसी को भी पुलिस ने एक बार भी नहीं पीटा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का समर्थन करने वाले लोग कहते हैं कि भारत को आजादी, बलिदान और सत्याग्रह से मिली. सांसद हेगड़े ने कहा कि यह सच नहीं है, अंग्रेजों ने सत्याग्रह के कारण देश नहीं छोड़ा.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड के 155 अतिनक्सल प्रभावित थाना क्षेत्र में नक्सली दे रहे पुलिस को चुनौती

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: