JharkhandRanchi

बिना जमीन अधिग्रहण के ही बनेगा हरमू फ्लाईओवर

Ranchi: राजधानी रांची के हरमू रोड पर बनने वाले फ्लाईओवर का रास्ता साफ हो गया है. इस फ्लाईओवर निर्माण को लेकर आ रही बड़ी बाधाओं को दूर कर लिया गया है. अब यह फ्लाईओवर रैयतों की जमीन अधिग्रहण के बिना ही बनेगा. फ्लाईओर कार्तिक उरांव चौक से राजभवन से पहले जुडिशियल कॉलोनी के गेट तक 3 लेन वाली 12 मीटर चौड़ी होगी. साथ ही राजभवन की ओर से परेशानी को भी दूर कर लिया गया है. फ्लाईओर की जमीन के लिए राजभवन की जमीन इस्‍तेमाल करने की जरूरत नहीं होगी.

इसे भी पढ़ें- अटल जी का अस्थि कलश 22 को रांची आयेगा, झारखंड की पांच नदियों में होगा विसर्जित

ज्‍यूडी‍शीयल कॉलोनी के गेट तक 12 मीटर चौड़े फ्लाईओवर का निर्माण

प्रोजेक्ट भवन स्थित नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव कार्यालय में सोमवार को हरमू और कांटाटोली फ्लाईओवर की समीक्षा बैठक की गई. जिसमें नगर विकास एवं आवास विभाग के मंत्री सीपी सिंह और सचिव अजय कुमार सिंह के साथ साथ रांची के नगर आयुक्त डॉक्टर शांतनु अग्रहरि, विभाग के संयुक्त सचिव एके रतन, जिला भू अर्जन पदाधिकारी सीमा सिंह, रांची के अपर समाहर्ता, JUIDCO, मेकॉन तथा निर्माण कंपनियों के कॉन्ट्रैक्टर्स मौजूद रहे.

बैठक में विभिन्न एजेंसियों से हुई बातचीत के बाद यह निर्णय लिया गया कि कार्तिक उरांव चौक से राजभवन से पहले ज्‍यूडीशीयल कॉलोनी के गेट तक 3 लेन के 12 मीटर चौड़े फ्लाईओवर का निर्माण होगा. नगर विकास सचिव ने कहा कि यह फ्लाईओवर सिंगल पाया पर बना होगा. पिलर की चौड़ाई मात्र 2 मीटर होगी. इस 2 मीटर के बाहर दोनों तरफ सर्विस रोड भी रहेगा, लेकिन इस निर्माण में जमीन का भू अर्जन की जरूरत नहीं होगी.

इसे भी पढ़ें- मनरेगा में धांधली : राष्ट्रीय अवकाश स्वतंत्रता दिवस में मनरेगा मजदूरों ने मास्टर रोल में किया कार्य

राजभवन से भी जमीन लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी

वर्तमान सड़क की चौड़ाई से कम जगह में ही इस फ्लाईओवर का निर्माण होगा. वहीं सचिव ने यह भी साफ कर दिया कि राजभवन की दीवार से पहले ही बाईं तरफ फ्लाईओवर को सड़क पर उतारा जाएगा. जिससे राजभवन से भी जमीन लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी. मंत्री और सचिव ने मेकॉन के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि जल्द से जल्द हरमू फ्लाईओवर निर्माण का डीपीआर तैयार कर सरकार को समर्पित करें.

इसे भी पढ़ें- घाघरा में पुलिस और अर्धसैनिक बलों द्वारा किया गया था दमन : फैक्ट फाइंडिंग टीम

कांटाटोली फ्लाईओवर के दोनों तरफ डायवर्सन की व्यवस्था करें

कांटाटोली फ्लाईओवर के निर्माण की भी समीक्षा की गई. सचिव ने निर्माण कंपनी को निर्देश दिया की ब्रिज के निर्माण से पहले दोनों तरफ डायवर्सन की व्यवस्था करें और इसके साथ यह भी सुनिश्चित हो की निर्माण में यूटिलिटी सर्विस प्रभावित ना हो. वहीं नगर विकास एवं आवास विभाग के मंत्री सीपी सिंह ने निर्देश दिया की जब तक डायवर्सन का निर्माण हो रहा है तब तक भारी वाहनों का रूट डायवर्ट किया जाए और इसके लिए ट्रैफिक पुलिस के साथ को-आर्डिनेशन की बैठक कर ठोस निर्णय लिया जाए.

इसे भी पढ़ें- मनरेगा में धांधली : राष्ट्रीय अवकाश स्वतंत्रता दिवस में मनरेगा मजदूरों ने मास्टर रोल में किया कार्य

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ जल्‍द होगी बैठक

उन्होंने हरमू फ्लाईओवर में भी साफ कर दिया कि जमीन के बिना अधिग्रहण किए 3 लेन का फ्लाईओवर बनाया जाए और इसकी योजना जल्द तैयार की जाए. ताकि आसपास के लोगों को कोई परेशानी भी ना हो. रांची के नगर आयुक्त डॉ शांतनु अग्रहरि अग्रहरि आश्वस्त किया कि जल्द ही बैठक कर कोई समाधान निकाल लिया जाएगा. इसके साथ ही हरमू फ्लाईओवर निर्माण को लेकर विभाग नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ भी जल्द बैठक करेगा, जिसमें मेकॉन के भी अधिकारी मौजूद रहेंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: