NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लेस्लीगंज प्रखंड के पारा शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ जताया आक्रोश

सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई.

749

Palamu: जिले के लेस्लीगंज प्रखंड के पारा शिक्षकों द्वारा शनिवार को लेस्लीगंज मध्य विद्यालय के मैदान में एक आक्रोश बैठक की गई. बैठक की अध्यक्षता पारा शिक्षक संघ के नेता राजीव रंजन शुक्ला व संचालन कामता प्रसाद यादव द्वारा किया गया. बैठक में समान वेतन के लिए सरकार के खिलाफ लोगों ने अपने-अपने विचारों को रखा तथा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई.

इसे भी पढ़ें: अपराधियों का शहर बना राजधानी, 15 दिनों के अंदर तीन हत्याएं

अपनी मांगों को मनवाने के लिए राज्य सरकार को बाध्य करेगी संघ

बैठक में मुख्य रूप से एकत्रित पारा शिक्षक संघ का रांची में 9 सितंबर को होने वाले सम्मेलन में यहां से सैकड़ों पारा शिक्षक जाने के लिए पूरी तरह से मन बना लिए है. अपनी मांग को मनवाने के लिए राज्य सरकार को बाध्य किया जाएगा. संघ के नेताओं ने अपने वक्तव्य में कहा कि बिहार एवं छत्तीसगढ़ के तर्ज पर झारखंड में भी पारा शिक्षकों को सम्मान काम के लिए सम्मान वेतन मांग की है. पारा शिक्षकों ने बताया कि हम सभी पारा शिक्षकों के साथ सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है. जहां सरकारी शिक्षकों को उसी विद्यालय में 40,000 वेतन देती है. वहीं पारा शिक्षकों को 6000-7000 रुपए पर काम करना पड़ता है. जिससे पारा शिक्षकों के बच्चों की पढ़ाई और दवाई में भी कम पड़ जाता है. पारा शिक्षक भी शिक्षक हैं. हम सभी को भी रहने के लिए घर और खाने के लिए भोजन, पहनने के लिए कपड़े की आवश्यकता होती है. जो कि सरकार देने से असफल है. अब सरकार के साथ हम सभी पारा शिक्षक आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ें: गांव-गांव जाकर गरीब अवाम को सरकार की उलब्धियां बतायें कार्यकर्ता : विधायक आलोक चौरसिया

बाल मुंडन करा कर सरकार का करेंगे विरोध : सुषमा सोनी

madhuranjan_add

महिला पारा शिक्षक सुषमा सोनी ने अपने विचार को रखते हुए कहा कि अगर सरकार द्वारा समय रहते हुए ही हम पारा शिक्षकों की मांग नहीं मानी गई तो हम सभी महिलाएं अब अपना बाल मुंडन करा कर सरकार का विरोध करेंगी.

इसे भी पढ़ें: दुष्कर्म की कोशिश करने वाले युवक से शादी करना चाहती है पीड़िता, परिजन कर रहे इनकार

पारा शिक्षकों को मिला पांकी विधायक का समर्थन

पांकी विधायक देवेंद्र कुमार सिंह ने विधानसभा कमेटी के राज्य से बाहर होने के कारण लेस्लीगंज के पारा शिक्षकों को ऑनलाइन संबोधन किया. सिंह ने अपने संबोधन में कहां है कि पारा शिक्षकों की मांग बिल्कुल जायज है. देवेंद्र कुमार ने आगे कहा कि मैं पारा शिक्षकों के समर्थन में हमेशा रहा हूं और रहूंगा. आपकी आवाज मैं विधानसभा में भी उठाऊंगा और सरकार को आप सभी को समान काम के लिए समान वेतन देने के साथ-साथ स्थायी नियुक्ति की मांग करूंगा. उन्होंने बताया कि पारा शिक्षकों को छत्तीसगढ़, बिहार के तर्ज पर पारा शिक्षकों को वेतन मिलना चाहिए. उन्होंने बताया कि पारा शिक्षकों की मांग के लिए सरकार को पहले भी हमने लिखित दे चुका हूं. आपकी जायज मांग की लड़ाई में मैं आपके साथ हूं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: