Jharkhand Vidhansabha ElectionMain Slider

#Palamu: इन बूथों पर एक भी वोट नहीं डाले गये, दिनभर मतदाताओं को मनाते रहे अधिकारी

Dilip Kumar

Jharkhand Rai

Palamu: सड़कें नहीं बनने से नाराज पलामू के पांडू प्रखंड क्षेत्र के लोग वोट बहिष्कार के अपने निर्णय पर अड़े रहे. एक वोट तक नहीं डाला. मतदान केन्द्र सुनसान पड़े रहे.

दिन भर एडिशनल कलक्टर ग्रामीणों को समझाते रह गये, लेकिन एक भी ग्रामीण ने अपने निर्णय को नहीं बदला.

पांडू के छह गांवों में नहीं हुई वोटिंग 

पलामू के विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत पांडू प्रखण्ड के छह गांव लवरपांडू, कोल्हपांडू, असनौलिया, गोल्हेटाड़, गगनकेड़ी, विशुनपुर के ग्रामीणों ने रोड नहीं तो वोट नहीं का नारा लगाते हुए वोट बहिष्कार किया.

Samford

मतदान केंद्र पर केवल प्रजाइडिंग ऑफिसर की टीम बैठी थी. एक भी वोटर नजर नही आये.

इसे भी पढ़ें : शिक्षकों की कमी से जूझ रही RU, फिर भी शुरू किया गया एक दर्जन सेल्फ फिनांस कोर्स

1333 मतदाताओं ने किया वोट बहिष्कार

लोगों को समझाते एडिशनल कलक्टर
लोगों को समझाते एडिशनल कलेक्टर.

उत्क्रमित मवि लवरपांडू के बूथ संख्या 282 में 661 मतदाता हैं, वहीं राउमवि असनौलिया के बूथ संख्या 287 में 672 मतदाता हैं.

कुल 1333 मतदाताओं ने पूरी तरह से वोट को बहिष्कार करते हुए एक भी मतदान नहीं किया.

वोट बहिष्कार की जानकारी मिलते ही एडिशनल कलक्टर ने शनिवार को बहिष्कार किये दोनों बूथों पर पहुंचकर जायजा लिया एवं मतदातों से मतदान करने का अपील की.

इस अवसर पर एडिशनल कलक्टर ने कहा कि आचार संहिता लागू हो जाने के सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया, लेकिन 15 जनवरी से निर्माण कार्य की शुरुआत हो जायेगी.

जून माह तक सड़क निर्माण कार्य को पूर्ण कर लिया जायेगा. लेकिन ग्रामीण अपने निर्णय पर अड़े रहे.

मौके पर एडिशनल कलक्टर ने आरईओ विभाग के इंजीनियर को काफी पटकार भी लगायी.

उन्होंने कहा कि जानकारी मिली रहती तो अबतक निर्माण कार्य फाइनल हुआ रहता. सड़क का निर्माण कार्य प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत दो करोड़ की लागत से किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : नेशनल बैम्बू मिशन राज्य में है असफल, राज्य सरकार ने नहीं की बीमा बैम्बू की फंडिंग

सभी जनप्रतिनिधियों ने उन्हें झूठा आश्वासन दिया: ग्रामीण

ग्रामीणों ने कहा कि जो भी जनप्रतिनिधि आये, सभी ने झूठा आश्वासन दिया और छलने का काम किया.

मालूम हो कि पांडू मुख्य पथ के बंधेराज से लवरपांडू तक छः किलोमीटर तक काफी जर्जर सड़क है, जिसे लेकर कई बार ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधि एवं पदाधिकारियों से सड़क निर्माण के लिए आग्रह किया था, लेकिन किसी ने भी गम्भीरता से इसे नहीं लिया. नतीजा चुनाव पूर्व ग्रामीणों ने सड़क नहीं तो वोट नहीं का नारा दिया और अंत तक इसपर अड़े रहे.

उल्लेखनीय है कि विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी हैं.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection: डालटेनगंज में कांग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी ने पोलिंग बूथ पर लहराया हथियार, डीसी ऑफिस में पूछताछ

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: