JharkhandLead NewsPalamu

पलामू: आइबीम लोड टेलर बाइक से टकरा कर घर में घुसा, तीन की मौत, दो गंभीर

Palamu : पलामू जिले में मंगलवार को एक बार फिर भीषण सड़क दुर्घटना हुई. इस घटना में तीन लोगों की मौके पर मौत हो गयी, जबकि पति-पत्नी गंभीर हो गये.

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को बेहतर इलाज के लिए मेदनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रेफर किया गया. उनकी हालत चिंताजनक बतायी गयी है.

advt

जानकारी के अनुसार घटना जिले के हरिहरगंज थाना क्षेत्र के कौवाखोह के रजवार मोड़ पर हुई. बताया जाता है कि छतरपुर की ओर से एक टेलर (एनएल 01ए डी 5615) भारी भरकम आइबीम लेकर हरिहरगंज की ओर जा रहा था.

सड़क से गुजर रहे बाइक सवारों ने बताया कि टेलर अनियंत्रित होकर सड़क से गुजर रहा था. हरिहरगंज थाना क्षेत्र के ढाब गांव से टेलर अनियंत्रित होकर सड़क पर आगे बढ़ रहा था. अंदाजा लगाया जा रहा था कि या तो उसकी स्टेरिंग फेल हो गयी थी या फिर चालक नशे में वाहन चला रहा था.

इसे भी पढ़ें :बड़ी खबर : पूर्वी रेलवे जोन ने धनबाद से चलने वाली 16 ट्रेनें की रद्द, सात में नहीं चलेंगी ये ट्रेनें

कौवाखोह के रजवार मोड़ के पास पहुंचने पर टेलर अचानक से बायें की जगह दायें मुड़ गया और सड़क से गुजर रहे बाइक सवारों को अपनी चपेट में लेते हुए गणेश यादव के घर में घुस गया. हादसा इतना जोरदार था कि ट्रेलर में लोड भारी भरकम आइबीम चालक और सह चालक के केबिन में घुस गया.

इसे चालक और सह चालक की मौके पर मौत हो गयी. वहीं बाइक सवार नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र के तुर्काडीह निवासी धर्मेंद्र भुइयां (23 वर्ष) की मौके पर मौत हो गयी.

दुर्घटना की सूचना मिलने पर आसपास के लोग मौके पर जुट गये और बाइक सवार जख्मी पति-पत्नी धनंजय भुइयां (25वर्ष) और जयंती देवी (23वर्ष) को इलाज के लिए हरिहरगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भेजा.

इधर सूचना के बाद हरिहरगंज के बीडीओ निखिल गौरव कमान कक्षप और थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुदामा कुमार दास मौके पर पहुंचे. ग्रामीणों की मदद से टेलर पर गिरे मलबा को हटाया गया.

बावजूद टेलर के केबिन में भारी भरकम आइबीम के घुस जाने से उसे हटाना संभव नहीं हो सका. प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि टेलर को हटाने के लिए क्रेन मंगाया गया है. घटना के समय गणेश यादव के घर पर ताला लगा हुआ था. अगर परिवार के सदस्य रहते तो मरनेवालों की संख्या और भी बढ़ सकती थी.

इसे भी पढ़ें :तेजस विमान बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले पद्मश्री डॉ. मानस बिहारी वर्मा का निधन

इधर, हरिहरगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के बाद धनंजय और उसकी पत्नी की गंभीर हालत को देखते हुए मेदनीनगर रेफर कर दिया गया है. धनंजय के हाथ और पैर टूट गये हैं, वहीं पत्नी को भी गंभीर चोट आयी है.

धनंजय की शादी बिहार के कुटुंबा इलाके में हुई थी. वह गांव के एक युवक के साथ बाइक से अपनी पत्नी को लेने ससुराल गया था. ससुराल से वापस अपने घर नौडीहा बाजार थाना क्षेत्र के तुर्काडीह लौट रहा था.

इधर, जानकारी मिली है कि टेलर छत्तीसगढ़ का है और इसके चालक और सह चालक गढ़वा के रहनेवाले हैं. हालांकि उनकी पहचान नहीं हो पायी है और उनके शव टेलर के केबिन में आइबीम के नीचे फंसे हुए हैं. शव को बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है. समाचार लिखे जाने तक शव टेलर के केबिन में फंसे हुए थे.

इसे भी पढ़ें :जानिए जड़ी-बूटियों से बनी दवा आयुष– 64 के बारे में, जिसे कोरोना के हल्के लक्षणों में सरकार ने बताया कारगर

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: