न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हजारों पारा शिक्षकों की पदयात्रा से ठहर गया धनबाद, हर सड़क पर लगा जाम

2,748

Dhanbad: हाल में ऐसा नहीं हुआ था, जब आंदोलनकारियों की भीड़ से धनबाद की हर सड़क पर जाम लगा हो. पूरा ट्रैफिक ठहर गया. दोपहर साढ़े बारह बजे के बाद शहर की सड़कों पर जाम लगा था. जगह-जगह पुलिसवाले ट्रैफिक सामान्य करने में लगे थे. लेकिन उन्हें कोई सफलता नहीं मिल रही थी. आंदोलनरत पारा शिक्षकों का भारी जत्था हर मार्ग से आ रहा था. सभी पारा शिक्षकों ने रणधीर प्रसाद वर्मा चौक पर डेरा डाल दिया. अपराह्न तीन बजे तक पारा शिक्षक यहां जमे रहे.

छत्तीसगढ़ और बिहार की तर्ज पर पारा शिक्षकों को स्थायी करने, समान काम के बदले समान वेतनमान देने, 280 गिरफ्तार पारा शिक्षकों को बिना शर्त रिहा करने, स्थापना दिवस पर पारा शिक्षकों और पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज की निष्पक्ष जांच कर न्याय की मांग आदि को लेकर शनिवार को 12 बजे जिले के पारा शिक्षकों ने बाल-बच्चों के साथ न्याय पदयात्रा निकाली. यात्रा गोल्फ ग्राउंड से शुरू होकर बेकारबांध से डीआरएम चौक होते हुए रणधीर वर्मा चौक तक निकाली गई. यात्रा में एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले जिले के हजारों पारा शिक्षक शामिल हुए. पदयात्रा में महिला और पुरुष दोनों ही पारा शिक्षक बहुतायत में शामिल हुए.

रघुवर सरकार होश में आओ, जैसे लगाये गये नारे

पदयात्रा में पारा शिक्षकों ने मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई. शिक्षकों ने अपनी विभिन्न मांगों के साथ झारखंड स्थापना दिवस पर उन पर हुए लाठीचार्ज पर आक्रोश व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास को छत्तीसगढ़ वापस लौटने जैसे नारे भी लगाये.

silk_park

ज्ञात हो कि 15 नवंबर को पारा शिक्षकों ने अपनी मांगों को लेकर मोरहाबादी में झारखंड स्थापना दिवस के मुख्य समारोह में हंगामा किया था. उसी दौरान पुलिस ने शिक्षकों पर लाठीचार्ज कर दिया था. इस घटना का कवरेज कर रहे पत्रकारों के साथ भी मारपीट की गयी और उनके कैमरे छीन लिये गये थे. सैकड़ों शिक्षकों को गिरफ्तार भी कर लिया गया था. इसके बाद से पारा शिक्षक लगातर संघर्षरत हैं और सरकार को हर स्तर से घेरने में लगे हुए हैं.

जिले के सभी प्रखंडों से शामिल हुए पारा शिक्षक

शनिवार को हुए पदयात्रा में धनबाद जिले के बलियापुर, गोविंदपुर, टुंडी समेत सभी प्रखंडों के पारा शिक्षक, मुखिया और स्थानीय नेता भी शामिल हुए. इस यात्रा के दौरान रणधीर वर्मा चौक पर पहुंचने पर शिक्षकों ने भाजपा सरकार के साथ सांसद पशुपतिनाथ सिंह, विधायक फूलचंद मंडल आदि के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: