JharkhandKhas-KhabarRanchi

MLA विनोद सिंह ने कहा- CM को उलझा रहे हैं अफसर, जिस नियम से हाथी उड़ाया, उसी नियम से गरीबों की करें मदद 

Ranchi: बगोदर से माले विधायक विनोद सिंह ने शुक्रवार की सुबह मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को संबोधित कई ट्विट किये. एक ट्विट में उन्होंने कहा कि केरल, बिहार, दिल्ली की सरकार जब मजदूरों के खाते में पैसे भेज रही है, तो झारखंड में क्यों नहीं?

अफसर झारखंड में “हाथी” उड़ा देते हैं, वे संकट में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को नियमों में क्यों उलझाते हैं? जिस नियम से हाथी उड़ाया, उसी नियम से गरीबों की मदद करें. अन्य राज्यों से नियम मांग लें.

इसे भी पढ़ें- #CoronaVirus: भारत के लिए एक अरब डॉलर के इमरजेंसी फंड को #WorldBank ने दी मंजूरी

उल्लेखनीय है कि झारखंड में पांच साल तक बहुमत वाली रघुवर दास की सरकार थी. उस सरकार ने “मोमेंटम झारखंड” में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की गयी. मोमेंटम झारखंड का लोगो “उड़ता हाथी” था. यही कारण है कि झारखंड में “हाथी” उड़ाने की बात लोग चटकारे ले-लेकर करते रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- #Covid-19 की चपेट में अर्थव्यवस्थाः एडीबी ने भारत के GDP अनुमान को घटाकर चार फीसदी किया

विनोद सिंह ने एक अन्य ट्विट में लिखा कि पूर्व मंत्री सरयू राय ने डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) पर स्टडी की है. झारखंड में हाथी उड़ाने वाले अफसर उनसे विमर्श कर लें. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल या बिहार के मुख्यमंत्री से नियम मंगा लें. अध्यादेश जारी कर दें.

विनोद सिंह ने मुख्यमंत्री को संबोधित करते हुए लिखा है कि हेमंत सोरेन जी बड़े फैसलों का वक्त है. एक-एक मिनट कीमती है. झारखंड बनना साकार करें.

दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और बिहार में नीतिश कुमार ने मजदूरों तथा रोजगार से वंचितों के बैंक खाते में सीधे नकद राशि तत्काल डालने का प्रावधान किया है. इसलिये हेमंत सोरेन जी कृपया झारखंड के प्रवासी मजदूरों, रोजी रोटी से वंचित लोगों को तत्काल 5000-5000 रुपया भेजे जायें. नियम न हों तो बन सकते हैं.

इसे भी पढ़ें- #PMModi की अपीलः 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए दीया जलाकर कोरोना के अंधेरे को दूर भगाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button