Corona_Updates

#PMModi की अपीलः 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए दीया जलाकर कोरोना के अंधेरे को दूर भगाएं

New Delhi: कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी ने देशवासियों के साथ एक वीडियो संदेश साझा किया है. जिसमें उन्होंने देश के लोगों से साथ मिलकर कोरोना को हराने की बात कही.

अपने संदेश में उन्होंने देशवासियों से अपील की कि रविवार 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइटें बुझाकर, मोमबत्ती, दीया या टॉर्च जलाये और कोरोना वायरस के खिलाफ एकजुट होने का संदेश दें.

‘साथ मिलकर कोरोना को हराये, देश को विजयी बनाये’

अपने वीडियो संदेश में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ देशव्यापी लॉकडाउन को 9 दिन हो रहे हैं. आपके सेवा भाव का परिचय अभूतपूर्व है. शासन, प्रशासन और जनता ने स्थिति को संभालने का भरपूर प्रयास किया है. 22 मार्च को कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने वालों का जो सम्मान किया गया, वो एक मिशाल बन गया. दूसरे देश इसे दोहरा रहे हैं.

इससे ये भाव प्रकट हुआ कि देश एक होकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ सकता है. आज जब देश के करोड़ों लोग घरों में है, तब किसी को भी लग सकता है कि वो अकेला क्या करेगा. ये प्रश्न भी मन में आते होंगे की कितने दिन और ऐसे काटने होंगे. हम अपने घरों में जरूर हैं लेकिन अकेला कोई नहीं. 130 करोड़ लोगों की शक्ति हर शख्स के साथ है.

जो इस कोरोना संकट से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं वो है हमारे गरीब भाई-बहन, उन्हें उजाले की ओर ले जाना है. इस अनिश्चितता से देश को बाहर निकालना है. साथ मिलकर देश को इस संकट से उबारना है.

5 अप्रैल को 9 मिनट के लिए घर की लाइट्स ऑफ करें, दीया जलायें

पीएम ने अपने वीडियो संदेश में कहा कि 5 अप्रैल को कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है. रविवार को 130 करोड़ देशवासियों का जागरण करना है, उसे नयी उंच्चाईयों पर ले जाना है. प्रधानमंत्री ने 5 अप्रैल रात 9 बजे, देशवासियों के 9 मिनट मांगे हैं. उन्होंने कहा कि 9 मिनट के लिए घर की सभी लाइटें बंद करके, घर की बालकनी पर मोमबती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फैलश लाइट 9 मिनट तक जरूर जलायें.

घर की सभी लाइटें बंद कर दीया जलाकर हम एकसाथ होने का संदेश देंगे. पीएम ने अपील की कि दीये की प्रकाश की शक्ति से ये उजागर होगा कि हम सब एक ही संकट से लड़ रहे हैं. इस दौरान हम संकल्प करें कि हम अकेले नहीं हैं. कोई भी अकेला नहीं है.

पीएम मोदी ने इस दौरान सख्त हिदायत भी दी कि इस आयोजन के समय किसी को भी कहीं पर भी इकट्ठा नहीं होना है. भीड़ नहीं लगानी है. सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा को किसी भी हालत में तोड़ना नहीं है. कोरोना की चेन तोड़ने का यही रामबाण इलाज है. साथ आकर-साथ मिलकर कोरोना को हराये, देश को विजयी बनाये.

Advt

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button