JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

विधायक खरीद-फरोख्त मामला : विधायक अनूप सिंह ने दो दिन पहले कोतवाली थाने में की थी शिकायत

हेमंत सरकार को गिराने की थी साजिश : अनूप सिंह

Ranchi : झारखंड में एक बार फिर विधायकों के खरीद-फरोख्त का मामला गरमाया हुआ है. इस बार राज्य की हेमंत सरकार को अल्पमत में लाने की कोशिश की जा रही थी. पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया है. विधायकों के खरीद-फरोख्त मामले को लेकर बेरमो से कांग्रेस विधायक अनूप सिंह ने दो दिन पहले रांची के कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. इसके बाद से ही इस मामले में स्पेशल ब्रांच रेस हुआ था.

इस विषय पर विधायक अनूप सिंह से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि उन्होंने 22 जुलाई को कोतवाली थाने में एक आवेदन दिया था. कहा कि भाजपा के लोग शुरू से ही राज्य की हेमंत सोरेन सरकार को अस्थिर करना चाहते थे.

इसे भी पढ़ें :Tokyo Olympics 2020: बैडमिंटन में सात्विक और चिराग दूसरे दौर में, प्रणीत को मिली हार

advt

यही वजह है कि मधुपुर चुनाव के समय भाजपा के नेताओं ने यह बयान दिया था कि मधुपुर चुनाव जीत गए तो झारखंड में बाबूलाल मरांडी मुख्यमंत्री होंगे. लेकिन ऐसा नहीं हो पाया.

कहा कि उन्हें यह जानकारी मिली थी कि अलग-अलग जगहों के कुछ लोग राजनीतिक षड्यंत्र को अंजाम देने के लिए रांची में कैम्प किये हुए हैं और हवाला के जरिये बड़े पैमाने पर लेन-देन की सुचना मिली थी.

इसे भी पढ़ें :Ranchi: हिनू नदी, बड़ा तालाब और कांके डैम के किनारे बने इन 180 भवनों को तोड़ने का है आदेश

उन्होंने कहा कि इसी क्रम में यह भी पता चला कि सत्तारूढ़ दलों के विधायकों के खरीद-फरोख्त के लिए और लेन-देन के लिए बातचीत चल रही है.

ताकि कुछ विधायकों को प्रलोभन से तोड़कर सरकार गिराई जा सके. उन्होंने कहा कि इस मामले में उनसे जो भी जानकारी पुलिस द्वारा मांगी जायेगी वह देंगे.

इसे भी पढ़ें :ICSE, ISC Board Result 2021: सीआईएससीई बोर्ड परिणाम घोषित, यहां चेक करें अपना रिजल्ट

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: