न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मेनन एक्का ने रांची में सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर खरीदी जमीन, तत्कालीन एलआरडीसी की भी रही थी मिलीभगत

1,353

Ranchi : राजधानी रांची में सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर जमीन खरीदनेवालों की फेहरिस्त लंबी होती जा रही है. इसके खरीदार आम लोग ही नहीं, बल्कि बड़े ओहदेदार भी हैं. पहुंच और पैरवी के बल पर राजस्वकर्मियों की सांठगांठ से सीएनटी एक्ट के दायरे में आनेवाली जमीन को हथियाने का काम किया गया है. ऐसे मामले परत-दर-परत खुलते जा रहे हैं. पूर्व विधायक एनोस एक्का की पत्नी मेनन एक्का का भी नाम सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर जमीन खरीदनेवालों में शुमार है. राजधानी के ओरमांझी और कांके प्रखंड में मेनन एक्का द्वारा सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर जमीन खरीदी गयी है. इस मामले में भी राजस्वकर्मियों की मिलीभगत रही है. इसमें रांची के तत्कालीन भूमि सुधार उपसमाहर्ता (एलआरडीसी) कार्तिक कुमार प्रभात की भूमिका भी अहम रही है. मामला निगरानी आयुक्त के पास भी पहुंचा था, जिसमें कार्तिक कुमार प्रभात को दोषी पाया गया था.

मेनन एक्का ने कब खरीदी थी जमीन

जब एनोस एक्का ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री थे, तब मेनन एक्का ने 2006-07 में रांची के ओरमांझी प्रखंड स्थित कोलियरी मौजा में रिंग रोड के समीप लगभग 60 एकड़ जमीन खरीदी थी. इसमें भुइहरी जमीन भी शामिल है. यह वही जमीन है, जिसे प्रवर्तन निदेशालय द्वारा अटैच कर लिया गया है. इससे पहले इसी जमीन के एक हिस्से को लेकर उपायुक्त न्यायालय रांची में वाद संख्या 18/12 -13 कलुआ मुंडा बनाम मेनन एक्का का वाद भी चला था, जिसमें न्यायालय उपायुक्त रांची द्वारा 12 अप्रैल 2016 को मौजा कोलियरी खाता नंबर 34 व 39 का कुल रकबा 8.62 एकड़ दखल कब्जा का आदेश पारित किया गया. कलुआ मुंडा की जिस जमीन की खरीद मेनन एक्का द्वारा की गयी, उसका डीड संख्या 17223 जिल्द संख्या 645 रकबा 2.32 एकड़, डीड संख्या 13535 जिल्द संख्या 524 रकबा 3.78 एकड़, डीड संख्या 15675 जिल्द संख्या 605 रकबा 2.52 एकड़ है. इस भूमि पर आवेदक को दखल कब्जा दिलाने का आदेश पारित किया गया था. इसके बाद भी कलुआ मुंडा को दखल कब्जा आज तक नहीं मिल सका है.

मेनन एक्का ने रांची में सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर खरीदी जमीन, तत्कालीन एलआरडीसी की भी रही थी मिलीभगत

क्या है अंचल अधिकारी की रिपोर्ट

silk_park

मेनन एक्का द्वारा रांची स्थित मौजा कोलियरी खाता संख्या 34,  39 प्लॉट संख्या 457, 450, 459, 460, 461, 464, 465 जमीन के मामले में राजस्व कर्मचारी अंचल निरीक्षक द्वारा जांच कर तीन जुलाई 2018 को अनुमंडल पदाधिकारी रांची को रिपोर्ट सौंपी गयी. अंचल अधिकारी द्वारा भेजी गयी रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्तमान समय में इस भूमि पर राजेश कुमार मेहता (प्रोपराइटर शालीमार सदाबहार नर्सरी, पिता स्वर्गीय नंदकिशोर प्रसाद उर्फ मुंशी जी, थाना पतरातू, जिला रामगढ़) द्वारा शालीमार सदाबहार नर्सरी चलायी जा रही है. इस जमीन पर खेती भी की जा रही है. भूमि के संबंध में लिखा गया है कि न्यायालय उपायुक्त रांची के वाद संख्या 18/12-13 में 13 अप्रैल 2016 को मौजा कोलियरी खाता संख्या 34 और 49 की कुल रकबा 8.62 एकड़ भूमि पर आवेदक को दखल देहानी का आदेश पारित किया गया है. यह जमीन भूमि सर्वे खतियान में बकासत भुइहरी दर्ज है. रिपोर्ट में यह भी लिखा गया है कि मेनन एक्का की यह संपत्ति प्रवर्तन निदेशालय द्वारा जब्त संपत्ति में शामिल है.

इसे भी पढ़ें- बिजली विभाग के जेई से मारपीट मामले में पूर्व विधायक नियेल तिर्की गिरफ्तार

इसे भी पढ़ें- हर महीने एक लाख किलो से ज्यादा अनाज घोटाले की आशंका, मंत्री ने दिए जांच के आदेश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: